|MKSY| मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन | mksy.up.gov.in

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना उत्तर प्रदेश ऑनलाइन आवेदन | UP Kanya Sumangala Yojana Online Registration at mksy.up.gov.in | MKSY Apply Online | MukhyaMantri Kanya Sumangala Yojana Online Applikcation Form |

उत्तर प्रदेश की कन्याओं का भविष्य उज्जवल बनाने हेतु यूपी के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से कन्या के जन्म से लेकर पढ़ाई तक का खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, दस्तावेज एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

Table of Contents

Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana

कन्या सुमंगला योजना को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बालिकाओं को 15,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के तहत सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को आर्थिक सहायता छह सामान किस्तों में प्रदान की जाएगी। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत छात्रों के जन्म से लेकर उनकी स्नातक की पढ़ाई पूरी होने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस धनराशि का उपयोग करके वह अपना भविष्य उज्जवल बना सकेंगी तथा अपने पैरों पर खड़ी हो सकेंगी।

  • इस योजना के माध्यम से प्रदान की जाने वाली धनराशि लाभार्थियों को किस्तों में प्रदान की जाएगी
  • कक्षा एक में दाखिल होने वाली छात्राओं को सरकार द्वारा 2,000 रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • कक्षा 9 में दाखिल होने पर 3,000 रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी
  • छात्राओं द्वारा दसवीं और बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करने पर 3,000 रुपये प्रदान किए जाएंगे।
  • यदि कोई छात्र स्नातक या डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेती है तो उन छात्राओं को 5,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सरकार द्वारा Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana के लिए 1200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित कर दिया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से बालिकाएं अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकेंगी |
Kanya Sumangala Yojana 2022: सुमंगला योजना, Apply at mksy.up.gov.in

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की संक्षिप्त टिप्पणी

इस योजना के तहत मुख्य कथा कुछ इस प्रकार हैं:-

योजना का नाममुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022
किसके द्वारा शुरू की गईउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
आरंभ वर्ष2015
विभागमहिला एवं बाल विकास विभाग
योजना का उद्देश्यउत्तर प्रदेश की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्रदान करना
योजना का लाभकन्याओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना
योजना के लाभार्थीउत्तर प्रदेश की बालिकाएं
आर्थिक सहायता राशि15,000 रुपये
किश्ते6
कुल बजट1200 करोड रुपये
कुल लाभार्थी27,000
आवेदन का प्रकारऑनलाइन और ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटmksy.up.gov.in

|UP| भाग्यलक्ष्मी योजना

कन्या सुमंगला योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सब जानते हैं हमारे देश में अभी काफी ऐसी बालिकाएं हैं जो आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण अपने उच्च शिक्षा प्राप्त करने में असमर्थ रहती हैं। और इस स्थिति में उनका सपना अधूरा रह जाता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana को आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के जन्म से लेकर उनकी शिक्षा तक का सारा खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।

  • कन्या सुमंगला योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि प्रदेश के बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्रदान की जाए।
  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि बेटियों का भविष्य उज्जवल बन सके
  • जिससे वह अपने पैरों पर खड़ी हो सके।
  • अब उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को अपने खर्चे के लिए किसी दूसरे पर निर्भर रहने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी
  • इससे ना केवल बालिकाएं शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे बल्कि उनकी शिक्षा का ड्रॉप आउट अनुपात भी कम होगा।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश की बालिकाएं आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगी।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि लिंग अनुपात से होने वाली भ्रूण हत्या को समाप्त किया जा सके और लड़कियों के प्रति सकारात्मक सोच को बढ़ावा दिया जाए।

1.6 लाख एसएचजी को प्राप्त हुए 1 करोड़ रुपये

हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 14 दिसंबर 2021 को उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत 1.60 लाख स्वयं सहायता समूहों के खातों में 1000 करोड़ की राशि हस्तांतरित की गई। और साथ ही साथ 1.01 लाख लाभार्थियों को 20.20 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए। इस योजना के तहत प्रदान की जाने वाली धनराशि विभिन्न चरणों में एक लड़की के खाते में शतक नकद हस्तांतरित किए जाता है जिस में से प्रत्येक कुल 15000 रुपये का हकदार होता है। इस योजना के तहत अब तक 56,875 महिलाओं का चयन किया गया है जिनमें से 38,341 को प्रशिक्षित और प्रमाणित किया जा चुका है।

यूपी की 10.01 लाख बेटियों को मिला कन्या सुमंगला योजना का लाभ


जैसे कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश की कन्याओं का भविष्य उज्जवल बनाने हेतु मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत अब तक 10.01 लाख बेटियों को लाभ प्राप्त हुआ है। और साथ ही साथ बताया जा रहा है कि योगी सरकार द्वारा इस योजना के तहत 15 दिसंबर तक 200000 बेटियों को जोड़ा जाएगा। इसके लिए जिला स्तर पर काफी तेजी से काम चल रहा है। देखा जाए तो मिशन शक्ति के माध्यम से अब तक 1.55 लाख बेटियों को इस योजना में शामिल किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य की बेटियों को 15000 रुपये की धनराशि अलग-अलग हिस्सों में मुहैया कराई जाती है।

26 अक्टूबर से स्वावलम्बन कैंप का आयोजन किया जाएगा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा घोषणा की गई है कि 26 अक्टूबर से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत स्वावलम्बन कैंप का आयोजन किया जाएगा। इन कैंपों में लाभार्थियों को विभिन्न योजनाएं जैसे मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, पति की मृत्यु उपरांत, निराश्रित महिला पेंशन योजना, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभार्थियों को आवेदन पत्र से पूर्ण किया जाएगा और उन्हें इस योजना से लाभान्वित किया जाएगा। सरकार द्वारा इस कैंप को 26 अक्टूबर के अलावा 15 व 25 नवंबर और 8 व 22 दिसंबर को भी आयोजित किया जाएगा।

  • इस योजना के तहत आवेदन प्राप्त करने के बाद लाभार्थियों को धनराशि सीधे उनके बैंक खातों में हस्तांतरित की जाएगी।
  • वह सभी जो अन्य योजनाओं का लाभ लेना चाहते हैं तो वह इन कैंपों मैं जाकर आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदन करने के लिए प्रति योजना की पात्रता को पूरा करना होगा।

15 दिसंबर तक कन्या सुमंगला योजना मैं 2 लाख बालिकाओं को जोड़ा जाएगा


जैसे कि हम सभी जानते हैं कि महिला कल्याण एवं बाल विकास विभाग के द्वारा शुरू किया गया मिशन शक्ति अभियान का कार्य तेजी से चल रहा है। इस अभियान के माध्यम से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत प्रदेश के बेटियों का उत्थान हो रहा है। सरकार द्वारा 15 दिसंबर 2021 तक इस योजना के तहत 2 लाख नए पात्र बालिकाओं को जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। साथ ही साथ सरकार द्वारा बताया गया कि इस लक्ष्य को प्राप्त करने में विभाग द्वारा एक कार्य योजना का संचालन किया गया है जिसमें जिलों के संबंधित लक्ष्यों के बारे में निर्देशित किया जाएगा। इस योजना की शुरूआत मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 2019 में बालिकाओं के प्रति नकारात्मक सोच को खत्म करने के लिए की थी।

मुरादाबाद मंडल की 45197 बालिकाओं को मिला लाभ

राज्य सरकार द्वारा राज्य की बालिकाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से राज्य कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण प्रभावित हुई 45197 बालिकाओं को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की बालिकाओं को जन्म से लेकर स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य की बालिकाओं का भविष्य उज्जवल बनाया जाएगा।  

उत्तर प्रदेश की 9.91 लाख कन्याओं को मिला लाभ

उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने हेतु सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। अब तक इस योजना का लाभ राज्य की 9.91 लाख बालिकाओं को प्रदान किया गया है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत प्राप्त होने वाली धनराशि सीधे लाभार्थियों को बैंक खातों में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर मेथड से प्रदान की गई है। साथ ही साथ उत्तर प्रदेश में आयोजित हुए मिशन शक्ति अभियान के अंतर्गत 1.55 लाख नई बालिकाओं का पंजीकरण प्राप्त हुआ है। 

9.36 लाख बालिकाओं को मिला कन्या सुमंगला योजना का लाभ

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बालिकाओं के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु और उनके प्रति नकारात्मक सोच को खत्म करने के लिए कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं को जन्म से लेकर स्नातक की पढ़ाई के लिए 15000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए विभाग द्वारा जुलाई से अगस्त तक विशेष अभियान संचालित किया गया है। अगस्त के महीने में कैंप का आयोजन कर लाभार्थी के आवेदन की प्रक्रिया को पूर्ण किया जा रहा है। अब तक इस योजना का लाभ लगभग राज्य की 9.36 लाख पात्र बालिकाओं को प्रदान किया जा चुका है। 

  • Kanya Sumangala Yojana के तहत ऐसे लाभार्थी पात्र होंगे जिनके परिवार की वार्षिक आय 300000 तथा उससे कम होगी।
  • सरकार द्वारा इस योजना के तहत बालिकाओं को यह राशि कुल 6 किस्तों में प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना

उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्रदान करने हेतु सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना को आरंभ किया गया है। इस योजना के तहत बालिकाओं को जन्म से लेकर पढ़ाई तक के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे वह अपने जीवन यापन अच्छे से कर सके और राज्य से लिंग अनुपात को समाप्त किया जा सके। Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से प्रदान की जाने वाली 15,000 रुपये की धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक खातों में हस्तांतरित की जाएगी।

  • इस योजना के माध्यम से बालिका उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकेंगी
  • योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि सामान्य किस्तों में प्रदान की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश से भ्रूण हत्या को समाप्त किया जा सकेगा।
  • जिससे लड़कियों के प्रति सकारात्मक सोच को विकसित किया जा सकेगा |

उत्तर प्रदेश की 1701 बेटियों को मिलेगा कन्या सुमंगला योजना का लाभ

उत्तर प्रदेश के तहत परिषदीय, सहायता प्राप्त, मान्यता प्राप्त विद्यालयों के साथ ही साथ मदरसों से नामांकित 1701 बेटियों को कन्या सुमंगला का लाभ मुहैया कराया जाएगा। साथ ही साथ प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में से कक्षा एक से छह में पढ़ने वाली बेटियों को भी कन्या सुमंगला योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस लक्ष्य की पूरी जिम्मेदारी खंड शिक्षा अधिकारियों को सौंपी गई है। इन सभी अधिकारियों को विद्यालय स्तर पर 1 सप्ताह के अंदर आवेदन करने के निर्देश जारी किए गए हैं। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की लड़कियों को शिक्षा प्रदान की जाए ताकि उनका भविष्य उज्जवल बने। 

  • Kanya Sumangala Yojana का लाभ केवल एक परिवार की दो बालिकाओं को ही प्रदान किया जाएगा यदि तीसरे बेटी भी संतान होती है तो ऐसी स्थिति में तीसरी बेटी को लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • बालिकाओं को पहली कक्षा में दाखिल होने पर 2000 रुपये, छठी कक्षा में आने पर 2000 रुपये एवं 12वीं उत्तीर्ण करने पर 5000 रुपये की धनराशि आदि मुहैया कराई जाएगी।

लक्ष्य के मुकाबले 123% लाभार्थियों का हुआ चयन

उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से बालिकाओं के जन्म से लेकर उनकी पढ़ाई पूरी होने तक आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत झांसी मंडल में लगभग 4900 लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। परंतु कन्या सुमंगला योजना के तहत लक्ष्य के सापेक्ष में 123% लाभार्थियों का चयन किया गया है। यानी के मंडल जिले में सरकार द्वारा 5939 हुआ है जिन्हें 21 अगस्त 2021 में इस योजना के तहत राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत झांसी के 2782, जालौन के 1727, ललितपुर के 1430 लाभार्थियों का चयन किया गया है।

  • इन लाभार्थियों के खाते में 21 अगस्त को धनराशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से हस्तांतरित की जाएगी।
  • इस योजना के तहत आर्थिक सहायता प्राप्त करने के बाद राज्य की बालिकाएं आत्मनिर्भर व सशक्त बनेगी।

चंदौली जिले में 7517 बेटियों को मिला कन्या सुमंगला योजना का लाभ

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि बेटियों को जन्म से लेकर स्नातक की पढ़ाई तक आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से राज्य के गरीब बालिकाओं के जीवन में काफी बदलाव आ रहा है। इस सफलता को देखते हुए चंदौली जिले की 7517 बेटियों को लाभ प्रदान किया जा चुका है। इसके पश्चात 1722 कन्याओं का ऑनलाइन पंजीकरण इस योजना के तहत हो चुका है। उम्मीद है कि जल्द इन बालिकाओं को भी इस योजना के तहत 6 किस्तें प्रदान की जाएंगी।

  • जिला प्रोबेशन अधिकारी इंद्रावती यादव जी के द्वारा बताया गया कि कन्या सुमंगला योजना के तहत जिले के काफी बालिकाओं को लाभ प्राप्त हुआ है।
  • अब बालिकाओं के जन्म से लेकर शादी होने तक भरण पोषण की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

18 अगस्त से आरंभ होगा कन्या सुमंगला योजना का विशेष अभियान

14 अगस्त 2021 को एक समीक्षा के दौरान उत्तर प्रदेश के डीएम श्री डॉक्टर अरविंद चौरसिया के द्वारा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना एक विशेष अभियान के बारे में बात की गई। राज्य के डीएम द्वारा बताया गया कि 18 अगस्त 2021 से मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत एक विशेष अभियान चालू किया जाएगा। इस अभियान के तहत बालिकाओं को 6 किश्तों में 15000 रुपये की धनराशि देने का प्रावधान रखा गया है। डीएम द्वारा निर्देश जारी किए गए हैं की नगरीय क्षेत्रों में योग ग्रामीण क्षेत्रों के वीडिओ द्वारा यह सुनिश्चित किया जाए कि राज्य की कोई भी बालिका इस योजना से वंचित ना रह पाए।

  • और साथ ही साथ उन्होंने एसीएमओ डॉ आरती दीक्षित को निर्देश दिए हैं कि यह सभी बालिकाएं चिकित्सालयों एवं टीकाकरण वाली योजनाओं से वंचित ना रहे।
  • अगर किसी महिला की दो कन्या हुई है तो उनमें से किसी एक कन्या को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

|Form| सुकन्या समृद्धि योजना

प्रत्येक ग्राम पंचायत से 10 लाभार्थियों का होगा चयन

समाज कल्याण विभाग के द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत डीएम संजीव रंजन जी के द्वारा एक लक्ष्य को निर्धारित किया गया है। डीएम द्वारा संबंधित विभाग के अधिकारी को प्रत्येक ग्राम पंचायत के पात्र लाभार्थियों को आवेदन स्वीकृति प्रदान करने के निर्देश जारी किए गए। डीएम द्वारा कहा गया कि मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत प्रत्येक ग्राम पंचायत में कम से कम 10 लाभार्थियों का चयन किया जाएगा। और साथ ही साथ निर्देश दिए गए कि अगले निर्धारित 15 दिनों में इसका काम पूरा किया जाए। पंचायती राज विभाग के अंतर्गत डीपीआरओ को 5000 लाभार्थियों का चयन करने का लक्ष्य दिया गया और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को 1500 बच्चों के चयन का निर्देश दिए गए।

  • साथ ही साथ जिला समाज कल्याण अधिकारी शैलेंद्र गौतम जी के द्वारा बताया गया कि MKSY के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए एक रूपरेखा भी तैयार कर ली गई है।
  • जल्द से जल्द इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए कार्य किया जाएगा और राज्य के प्रत्येक पात्र लाभार्थियों को इसका लाभ पहुंचाया जाएगा।

7 लाख 81 हजार को मिला कन्या सुमंगला योजना का लाभ

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया गया है। योजना के माध्यम से बालिकाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करके उनका भविष्य उज्जवल बनाया जाएगा। सूत्रों के अनुसार पता चला है कि अब तक इस योजना का राज्य की लगभग 7 लाख 81 हजार बालिकाओं को प्रदान किया जा चुका है। इस योजना के माध्यम से राज्य की बालिकाओं में सशक्तिकरण एवं आत्मनिर्भरता प्राप्त हुई है।

  • सरकार द्वारा ग्राम पंचायतों आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों आशा वर्कर्स अध्यापकों व प्रधानाचार्य बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों को निर्देश दिए गए हैं कि राज्य के प्रत्येक लड़कीयों को Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana के बारे में जानकारी प्रदान की जा सके।
  • ताकि वह सब भी इस योजना का लाभ प्राप्त करने में सक्षम रहे।
  • उत्तर प्रदेश की बालिकाओं को लाभ पहुंचाने की दिशा में यह एक बेहतर कदम यूपी सरकार द्वारा उठाया गया है।

4400 बेटियों को मिला मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश की बेटियों को सशक्त बनाने हेतु सरकार द्वारा इस योजना के तहत छह श्रेणियों में बेटियों को 15000 रुपये की धनराशि प्रदान की जाती है। अब तक मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के लगभग 13308 धन प्राप्त हुए हैं। इन आवेदनों में से लगभग 2300 आवेदनों को निरस्त कर दिया गए हैं और बच्चे 4400 आवेदनों को धनराशि का भुगतान कर दिया गया है। परंतु अभी राज्य के 6600 बालिकाएं हैं जिन्हें इस योजना से लाभान्वित नहीं किया गया है। जल्द ही इन आवेदनों को धनराशि का भुगतान किया जाएगा ताकि राज्य की बेटियां आत्मनिर्भर और सशक्त बनें।

Kanya Sumangala Yojana 2022: सुमंगला योजना, Apply at mksy.up.gov.in

16,000 बालिकाओं को मिलेगा कन्या सुमंगला योजना का लाभ

Sumangala Yojana का लाभ उत्तर प्रदेश के बालिकाओं के जन्म से लेकर उनकी पढ़ाई तक प्रदान किया जाएगा। ‌इस योजना के माध्यम से 15,000 रुपये की धनराशि सामान्य किस्तों में प्रदान की जाएगी। 2021 में 16,000 बालिकाओं को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

  • अब तक MKSY के अंतर्गत 27,000 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं।
  • इन आवेदनों में से 7,000 पंजीकृत व्यक्तियों को लाभ प्राप्त हो चुका है।
  • इस योजना के अंतर्गत प्राप्त हुए 27000 आवेदनों में से 11000 आवेदन अपात्र है।
  • Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana का लाभ प्राप्त करने के बाद काफी लड़कियों की जिंदगियों में सुधार आया है।
  • अपात्र आवेदनों को जल्द ही सरकार द्वारा निस्तारित करने का निर्देश दिया गया है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अंतर्गत आवेदन कैसे करें?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana को उच्च शिक्षा एवं अच्छा जीवन स्तर प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश में होने वाली भ्रूण हत्या एवं बाल विवाह को समाप्त किया जा सकेगा। देश मैं बालिकाओं के प्रति नकारात्मक सोच को रखने वालों के सोच में बदलाव किया जा सकेगा। इस योजना के माध्यम से लड़कियों के जीवन स्तर में काफी सुधार आएगा जिससे वह अपना जीवन यापन अच्छे से कर सकेंगी

  • यदि आप ही कन्या सुमंगला योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा।
  • आवेदन करने के लिए आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आप आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

यूपी कन्या सुमंगला योजना की किस्तें

इस योजना के तहत किस्तें कुछ इस प्रकार हैं:-

श्रेणी के प्रकारदी जाने वाली धनराशि 
श्रेणी 1 – कन्या के 1 अप्रैल 2019 या इसके बाद जन्म होने पर तथा इस योजना के तहत कन्या के लिए आवेदन जन्म से लेकर 6 माह के  अंदर करना होगा2000 रूपये की धनराशि दी जाएगी|
श्रेणी 2 – कन्या के एक वर्ष के तक के पूर्ण टीकाकरण के उपरांत1000 रूपये की धनराशि दी जाएगी |
श्रेणी 3 –  कन्या के कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी | 
श्रेणी 4 – कन्या के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर2000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी | 
श्रेणी 5 – इसके बाद कक्षा 9 में प्रवेश लेने के उपरांत3000 रूपये की धनराशि 
श्रेणी 6 – कक्षा 10 /12 वी  उत्तीर्ण करके चालू शैक्षिणिक सत्र के दौरान स्नातक /डिग्री या कम से कम दो वर्षीय डिप्लोमा में प्रवेश लेने पर5000 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी |

Pradhan Mantri Yojana

कन्या सुमंगला योजना के लाभ एवं विशेषताएं

इस योजना के तहत लाभ एवं विशेषताएं कुछ इस प्रकार है:-

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के कन्याओं का भविष्य उज्जवल बनाने के लिए Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana को शुरू किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से कन्या के जन्म से लेकर पढ़ाई तक का संपूर्ण खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा।
  • MKSY के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 1200 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित कर दिया गया है
  • बालिकाओं को इस योजना के अंतर्गत जन्म से लेकर पढ़ाई तक 15,000 रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • यह सहायता बालिकाओं को 6 किस्तों में प्रदान की जाएगी
  • यह किश्ते लड़की के जन्म से लेकर स्नातक पढ़ाई तक दी जाएगी।
  • ताकि उत्तर प्रदेश के लड़कियां आत्मनिर्भर व सशक्त बने
  • Sumangala Yojana का मुख्य लाभ- उत्तर प्रदेश से लड़कियों के प्रति नकारात्मक सोच को समाप्त किया जा सकेगा।
  • कन्या सुमंगला योजना का लाभ एक परिवार के अधिकतम दो बालिकाओं को ही प्रदान किया जाएगा
  • यदि डिलीवरी के समय एक मां के जुड़वा बालिकाएं हो जाती है तो तीसरी बालिका भी इस योजना के योग्य मानी जाएगी
  • अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपके परिवार की वार्षिक आय 3 लाख या उससे कम होनी चाहिए
  • यूपी के किसी परिवार ने यदि किसी अनाथ कन्या को गोद लिया है तो अनाथ लड़की के साथ साथ उनकी स्वयं लड़की को भी इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश की बालिकाएं आत्मनिर्भर व सशक्त बनेगी
  • उन्हें अपने खर्चों के लिए किसी दूसरे पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा

यूपी सुमंगला योजना मैं आवेदन के लिए पात्रता

इस योजना के तहत पात्रता कुछ इस प्रकार है:-

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • आवेदक की परिवार की वार्षिक आय 3 लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए
  • अगर यूपी के किसी परिवार ने अनाथ बच्ची को गोद लिया है तो दो लड़कियां Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana का लाभ उठा सकते हैं
  • परिवार के दो से अधिक बच्चे इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं
  • यदि किसी महिला की जुड़वा बेटी हुई है तो उसे भी इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा

Important Documents

इस योजना के तहत दस्तावेज़ कुछ इस प्रकार हैं:-

  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • यदि बेटी गोद ली है तो गोद लेने का प्रमाण पत्र
  • वोटर आईडी कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र

कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

Apply Online Mukhyamantri Kanya Sumangala Yojana

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

Kanya Sumangala Yojana ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होमपेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको शीघ्र संपर्क के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको नागरिक सेवा पोर्टल के विकल्प पर क्लिक करना है
Kanya Sumangala Yojana ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर दिए गए नियम व शर्तें को ध्यान पूर्वक पढ़ना है।
  • नियम व शर्तें ध्यानपूर्वक पढ़ने के बाद आपको जारी रखें बटन पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा
कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
कन्या सुमंगला योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे बालिका का नाम, मोबाइल नंबर, आवेदक के पिता का नाम, लाभार्थी के परिवार में बच्चों की कुल संख्या, आवेदक का प्रकार, जिला, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Send SMS OTP
  • इस प्रकार आपके मोबाइल पर ओटीपी आएगा
  • इस ओटीपी को आपको खाली बॉक्स में दर्ज करना है
  • दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आपका आवेदन हो जाएगा

कन्या सुमंगला योजना ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • राज्य के लोगों को ऑफलाइन आवेदन के लिए उपरोक्त कार्यालय में जाना होगा।
  • वहां जाने के बाद आपको आवेदन फॉर्म की मांग करनी होगी
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है।
  • दर्ज करने के बाद आप को सभी दस्तावेज अटैच करने हैं।
  • इसके बाद आपको अपने आवेदन फॉर्म को खंड विकास अधिकारी कार्यालय में जमा करना होगा
  • इस प्रकार आवेदनों को संबंधित अधिकारी द्वारा जिला प्रोबेशन अधिकारी को भेज दिया जाएगा।
  • वहां आपके आवेदन पत्रों की जांच की जाएगी
  • जांच पूर्ण होने पर आपका आवेदन कन्या सुमंगला योजना में हो जाएगा

कन्या सुमंगला योजना मार्गदर्शिका डाउनलोड करने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत मार्गदर्शिका डाउनलोड करने की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:-

  • कन्या सुमंगला योजना मार्गदर्शिका डाउनलोड करने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश सरकार के अधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको शीघ्र संपर्क के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको कन्या सुमंगला योजना मार्गदर्शिका के विकल्प पर क्लिक करना है
कन्या सुमंगला योजना मार्गदर्शिका डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पीडीएफ फाइल खुलकर आएगी
  • इसे आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं

अधिकारी लोगिन करने की प्रक्रिया

वह सभी लाभार्थी जो अधिकारी लॉगइन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • अधिकारी लॉगिन करने के लिए आपको कन्या सुमंगला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको शीघ्र संपर्क के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको अधिकारी लॉगिन करें के विकल्प पर क्लिक करना है
अधिकारी लोगिन करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आप से पूछी गई सभी जानकारी जैसे Officer Role, District, Username, Password तथा Captcha Code दर्ज करनी है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आप अधिकारी लॉगिन कर पाएंगे

अपनी लॉगिन आईडी खोजने की प्रक्रिया

वह सभी लाभार्थी जो लॉगिन आईडी खोजना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • लॉगिन आईडी खोजने के लिए आपको मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको रिपोर्ट्स के सेक्शन में देखना है
  • यहां आपको अपनी लॉगिन आई डी खोजे के बटन पर क्लिक करना है
अपनी लॉगिन आईडी खोजने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करना है।
  • दर्ज करने के बाद आपको Verify Mobile Number के बटन पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने लॉगिन आईडी खुल कर आ जाएगी

योजना से संबंधित अपना ओपिनियन देने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो अपना ओपिनियन देना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • अपना ओपिनियन दर्ज करने हेतु आपको महिला एवं बाल विकास उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Your Opinion के विकल्प पर क्लिक करना है।
योजना से संबंधित अपना ओपिनियन देने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप अपना ओपिनियन दर्ज कर सकते हैं।

सर्वे में हिस्सा लेने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो सर्वे में हिस्सा लेना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • सर्वे में हिस्सा लेने हेतु आपको महिला एवं एवं बाल विकास उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सर्वे के विकल्प पर क्लिक करना है।
सर्वे में हिस्सा लेने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप सर्वे में हिस्सा ले सकते हैं।

सिविल मैनुअल डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो सिविल मैनुअल डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • सिविल मैनुअल डाउनलोड करने हेतु आपको महिला एवं एवं बाल विकास उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सिविल मैनुअल के विकल्प पर क्लिक करना है।
सिविल मैनुअल डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुलकर आएगी।
  • इस फाइल में आप संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • एवं इसे डाउनलोड के बटन पर क्लिक कर डाउनलोड भी कर सकते हैं।

नए नागरिक पंजीकरण हेतु मार्गदर्शन डाउनलोड करने की प्रक्रिया

घर व्यक्ति जो नए नागरिक के नए मार्गदर्शन डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • नए नागरिक पंजीकरण के लिए मार्गदर्शन डाउनलोड करने हेतु आपको महिला एवं एवं बाल विकास उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको नए नागरिक पंजीकरण हेतु मार्गदर्शिका के विकल्प पर क्लिक करना है।
नए नागरिक पंजीकरण हेतु मार्गदर्शन डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुलकर आएगी।
  • इस फाइल को आप डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक कर डाउनलोड कर सकते हैं।

सभी जिलों की एप्लीकेशन लिस्ट देखने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो सभी जिलों के एप्लीकेशन लिस्ट देखना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • सभी जिलों कि एप्लीकेशन लिस्ट देखने हेतु आपको महिला एवं एवं बाल विकास उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सभी जिलों के आवेदन सूची के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको संबंधित जानकारी दर्ज करनी है जैसे फाइनेंशियल ईयर, क्वार्टर एवं डिवीजन
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने संबंधित जानकारी खुलकर आ जाएगी।

ऑफिस मैनुअल डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो ऑफिस मैनुअल डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • ऑफिस मैनुअल डाउनलोड करने हेतु आपको महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सहायता दस्तावेज के सेक्शन में देखना है।
  • यहां आपको Office Manual के विकल्प पर क्लिक करना है।
ऑफिस मैनुअल डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी।
  • इस फाइल को आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक कर डाउनलोड कर सकते हैं।

सर्कुलर डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो सर्कुलर डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • सर्कुलर डाउनलोड करने हेतु आपको महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सर्कुलर के विकल्प पर क्लिक करना है।
सर्कुलर डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने पीडीएफ फाइल खुलकर आएगी।
  • इस फाइल में आप संबंधित जानकारी दर्ज कर सकते हैं।
  • साथ ही साथ आप इसे डाउनलोड के बटन पर क्लिक कर डाउनलोड भी कर सकते। 

फीडबैक लिस्टिंग देखने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो फीडबैक लिस्टिंग देखना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • फीडबैक लिस्टिंग देखने हेतु आपको महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको रिएक्शन के लिंक पर क्लिक करना है।
फीडबैक लिस्टिंग देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप फीडबैक लिस्टिंग देख पाएंगे।

संपर्क करें

इस योजना के तहत संपर्क विवरण इस प्रकार है:-

  • समस्या का समाधान प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको संपर्क करें के विकल्प पर क्लिक करना है
संपर्क करें
  • इस प्रकार आपके सामने एक पीडीएफ फाइल खुल कर आएगी
  • इन नंबरों के माध्यम से आप अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं
  • इस फाइल को आप डाउनलोड के बटन पर क्लिक करके डाउनलोड भी कर सकते हैं

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना से संबंधित प्रश्न उत्तर

प्रश्नउत्तर
क्या मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं?हां मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में आप ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं इसके लिए आपको विकास खंड अधिकारी के कार्यालय में जाना होगा
कन्या सुमंगला योजना का स्टेटस कैसे देख सकते हैं?Kanya Sumangala Yojana का स्टेटस देखने के लिए आपको इस योजना के अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर लोगिन करने की आवश्यकता पड़ेगी
कन्या सुमंगला योजना का पैसा कब आता है?इस योजना का 6 श्रेणियों में आता है पहला बच्चे के जन्म होने पर दूसरा टीकाकरण पर तीसरा कन्या के कक्षा 1 में प्रवेश लेने पर चौथा कन्या के कक्षा 6 में प्रवेश लेने पर पांचवा बालिका कक्षा 9 में प्रवेश लेने पर तथा छठा के हाईस्कूल पास करने पर
मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की सूची कब जारी की जाएगी?मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की सूची देखने के लिए आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर समय-समय पर जांच कर सकते हैं

Leave a Comment