|MP| बांस मिशन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, फॉर्म, लाभ व पात्रता & All Details

बांस मिशन योजना ऑनलाइन आवेदन | Baans Mission Yojana Apply | बांस मिशन योजना रजिस्ट्रेशन | Bamboo Mission Yojana Application Status | MP Bamboo Mission 2022 All Details In Hindi |

मध्य प्रदेश मैं बांस की खेती को प्रोत्साहित करने हेतु राज्य के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा बांस मिशन योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों को बांस की खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बांस मिशन योजना 2022 से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज़, आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। Baans Mission Yojana से सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारा आर्टिकल अंत तक विस्तार पूर्वक पढ़ना होगा।

MP Bamboo Mission Yojana

इस योजना की शुरुआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी द्वारा शुरू की गई। सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि किसानों को बांस की खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके। Baans Mission Yojana को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि किसान लाभ अर्जित कर सके एवं उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आ सके। बांस की खेती को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा इस योजना का शुभारंभ किया गया है। साथ ही साथ सरकार द्वारा घोषणा की गई है कि किसानों को पड़त की भूमि या खेत के बीच जगह छोड़कर बहस लगाने के लिए प्रेरित किया जाए ताकि उनकी आमदनी में बढ़ोतरी आए।

  • बांस की खेती को बढ़ावा देने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फॉरेस्ट एक्ट में संशोधन किया है।
  • बांस मिशन योजना के माध्यम से विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहां है की बांस मिशन को सफल बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ दिया जाए।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करके किसानों को काफी लाभ पहुंचेगा और किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
बांस मिशन योजना 2022

बांस मिशन योजना के मुख्य तथ्य

इस योजना के मुख्य तथ्य निम्नलिखित हैं:-

योजना का नामबांस मिशन योजना 2022
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा 
योजना का उद्देश्यबांस की खेती के लिए किसानों को प्रोत्साहित राशि मुहैया कराई जाएगी
योजना के लाभबांस को बचाने पर किसानों को अच्छा लाभ दिया जाएगा
योजना के लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
प्रोत्साहन राशि120 रुपये
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन या ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

एमपी बांस मिशन योजना का उद्देश्य

इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि बांस मिशन योजना के तहत बेरोजगार युवाओं और किसानों को बांस उगाने पर 50 हजार रुपए की सब्सिडी प्रदान की जाए। इस योजना में छोटे किसान को एक पौधे पर 120 रुपये की सब्सिडी मिलेगी। सरकार भी देश को प्लास्टिक मुक्त करने के लिए बांस की खेती को बढ़ावा देने का हर प्रयास कर रही है। Bamboo Mission Yojana में बांस की लकड़ियों के उत्पाद को बढ़ावा देकर प्लास्टिक के सामान से लोगों की निर्भरता कम की जा सके। इस योजना में आने वाले समय में इसका बाजार और बड़ा हो सकता है। बांस आधारित आजीविका और रोजगार को भी बढ़ावा देने पर भी काम किया जा रहा है। सरकार के इस मिशन से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को फिर जीवित करने और  किसानों की आय को दोगुनी करने के लिए कदम बढ़ाया जा रहा है।

  • कृषि आय के पूरक के लिए भूमि और जलवायु परिवर्तन के प्रति लचीलापन में योगदान के लिए।
  • बांस मिशन योजना में उद्योगों के लिए गुणवत्तापूर्ण कच्चे माल की आवश्यकता की उपलब्धता के लिए बांस की खेती को बढ़ावा देना।
  • मुख्य रूप से किसानों के खेतों, घरों में इसके वृक्षारोपण को बढ़ावा देने का प्रयास करना।
  • सामुदायिक भूमि, कृषि योग्य बंजर भूमि, और सिंचाई नहरों, जल निकायों पास बांस की खेती को बढ़ावा देने की कोशिश करना।

अधिकारियों ने किसान को दिए निर्देश

इस योजना को सफल बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने हाल के दिनों में एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहां है की बांस मिशन को सफल बनाने के लिए ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ दिया जाए। इस योजना में साथ ही किसानों को पड़त की भूमि या खेत के बीच में जगह छोड़ कर बांस लगाने के लिए प्रेरित करें ऐसा करने से किसानों को खेती के साथ आमदनी प्राप्त होगी। Baans Mission Yojana के तहत किसान करोड़ों की कमाई कर सकते हैं। इस योजना के तहत बांस की खेती की जा सकती है।

बांस के साथ सब्जियों की भी खेती की जाएगी 

वह सभी किसान जो बांस की कतारों के बीच में मिर्च, शिमला मिर्च, अदरक और लहसुन की फसल उगाई जा सकती है। बांस की कतार में इन फसलों में पानी कम लगता है और गर्मी में विपरीत प्रभाव नहीं पड़ता है। जिससे अच्छा उत्पादन हो जाता है। Bamboo Mission Yojana में सरकार ने बांस के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए ऑनलाइन आवेदन लेने शुरू कर दिए हैं। किसान अपना आवेदन ऑनलाइन माध्यम से या स्थानीय वनाधिकारी के कार्यालय में आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। बाँस की खेती करने पर हितग्राही को प्रति पौधा 120 रुपये का अनुदान तीन साल में मिलता है। इस योजना में पहले साल 60 रुपये दूसरे साल 36 रुपये और तीसरे साल 24 रुपये का अनुदान मिलता है।

सरकार ने दिया ट्रांसपोर्टर्स की आसानी के लिए ऑनलाइन परमिट

इस योजना में मध्य प्रदेश के वन विभाग में लकड़ी, बांस उत्पादक किसानों और ट्रांसपोर्टर्स की आसानी के लिए परमिट ऑनलाइन मिल सकेंगे।केन्द्रीय पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने नेशनल ट्रांजिस्ट पास सिस्टम के तहत प्रायोगिक रूप से मध्य प्रदेश और तेलंगाना राज्य का चयन किया है। मध्य प्रदेश बांस मिशन योजना में परमिट जारी करने के लिए बीते सप्ताह एप्लिकेशन एप लाँच किया गया है। इसमें वनोपज व्यापारी और किसान लकड़ी-बांस के स्टेट और इंटरस्टेट ट्रांसपोर्ट के लिए ऑनलाइन परमिट प्राप्त कर सकेंगे। ऑनलाइन सुविधा होने से अब व्यापारी और ट्रांसपोर्टर्स को वन विभाग के चक्कर लगाने से मुक्ति मिलेगी वहीं ट्रांसपोर्ट की लागत और समय की बचत से व्यापारियों को फायदा मिलेगा।

  • वन विभाग द्वारा विकसित एप्लिकेशन वेब पोर्टल और मोबाइल एप के ज़रिए लकड़ी और बांस परिवहन के लिए ऑनलाइन रज़िस्ट्रेशन करके ऑनलाइन ही पेमेंट भी किया जा सकेगा।
  • इस योजना में सरकार की कोशिश है कि किसान बांस की खेती करके मोटा लाभ कमाएं।

Benefits Of Bamboo Mission Yojana 

इस योजना के लाभ निम्नलिखित है:-

  • इस योजना की शुरुआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा शुरू की गई है।
  • बांस के खरीददार खेत से ही फसल ले जाते हैं जिसकी वजह से परिवहन खर्च भी नहीं होता।
  • इस पत्ती को जमीन में गाड़कर अच्छी क्वालिटी की कम्पोस्ट खाद भी बनाई जाती है।
  • बांस मिशन योजना मध्य प्रदेश में किसानों को करीब 7 करोड़ 20 लाख रुपए की सब्सीडी मिली।
  • बांस की खेती से लोगों को बड़े पैमाने पर रोजगार मुहैया होगा।
  • इस योजना में लोगो को बांस की खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा
  • प्लासिट्क के उपयोग को कम किया जाएगा।
  • इस योजना से गांवों से शहरों की ओर हो रहे पलायन पर भी रोक लगेगी।
  • किसान गांव में बंजर भूमि पर खेती कर उसे उपजाऊ वनाएगें।
  • Bamboo Mission Yojana Madhya Pradesh में इसके साथ ही छोटे किसान को एक पौधे पर 120 रुपये की सब्सिडी दी जाएगी। 
  • इस योजना में बांस पर प्रति पौधा 240 रुपए की लागत आती है। 
  • बांस मिशन की इस योजना में किसानों और बांस शिल्पियों को तकनीकी मार्गदर्शन और कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • इससे किसानों और स्थानीय लोगों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।
  • मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में बांस आधारित उद्योग स्थापित करने के लिए 2.77 करोड़ रुपए का अनुदान देने की घोषणा की थी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करके किसान आत्मनिर्भर भी बनेंगे।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में वृद्धि आएगी।
  • अगर आप लोग भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं।

बांस मिशन योजना की विशेषताएं

राज्य सरकार द्वारा की गई इस योजना की विशेषताएं को इस प्रकार दे रखी है:-

  • इस योजना की शुरूआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा इस योजना को आरंभ किया गया है।
  • बांस मिशन की इस योजना में किसानों और बांस शिल्पियों को तकनीकी मार्गदर्शन और कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • इससे किसानों और स्थानीय लोगों की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी।
  • MP Baans Mission Yojana में इस पत्ती को जमीन में गाड़कर अच्छी क्वालिटी की कम्पोस्ट खाद भी बनाई जाती है।
  • इसका उपयोग सब्जी और अन्य तरह की खेती में किया जाता है।
  • किसान को चौथे साल में प्रति एकड़ एक हजार क्विंटल बांस की सूखी पत्ती मिलती है।
  • बांस की कतारों के बीच में मिर्च, शिमला मिर्च, अदरक और लहसुन की फसल उगाई जा सकती है।
  • बाँस की खेती करने पर हितग्राही को प्रति पौधा 120 रुपए का अनुदान तीन साल में मिलता है।
  • बांस मिशन योजना एमपी में पहले साल ₹60, दूसरे साल ₹36 और तीसरे साल ₹24 का अनुदान मिलता है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों को काफी लाभ पहुंचेग जिससे वह अपना जीवन यापन आसानी से कर सकेंगे
  • मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में बांस आधारित उद्योग स्थापित करने के लिए 2.77 करोड़ रुपए का अनुदान देने की घोषणा की थी।
  • कई राज्यों में जिस वनोपज को नियमों से मुक्त रखा गया है, दूसरे राज्य में उसी वनोपज के लिए परमिट जरूरी है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आप इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं।

मध्य प्रदेश बांस मिशन योजना के तहत पात्रता

वह सभी व्यक्ति को इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो उन्हें नीचे दिए गए पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा:-

  • इच्छुक लाभार्थी को मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • किसानों के हित के लिए बांस मिशन योजना की तैयारी की जा रही है।
  • किसानों और बांस शिल्पियों को तकनीकी मार्गदर्शन और कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में बांस आधारित उद्योग स्थापित करने के लिए 2.77 करोड़ रुपए का अनुदान देने की घोषणा की थी।

Important Documents

बांस मिशन योजना में आवेदन करने के लिए जरूरी दस्तावेज़ ये है:-

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

बांस मिशन योजना 2022 के तहत आवेदन की प्रक्रिया

वह सभी व्यक्ति जो इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी कुछ समय का इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा अभी सिर्फ बांस मिशन योजना की घोषणा की गई है। अभी इसकी आवेदन की प्रक्रिया जारी नहीं की गई है। जैसे ही इस योजना की आवेदन की प्रक्रिया जारी की जाएगी वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करेंगे। यदि तब तक आप को इस लेख से संबंधित कोई भी कठिनाईयां मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Contact Information

  • Dr. U.K. Subuddhi
  • State Mission Director (NBM) & PCCF
  • Khel Parisar, 74 Bungalows, Bhopal-462003,
  • Madhya Pradesh
  • Tel: 91-755-2555524,2674341,
  • Fax:91-755-2555523,  
  • Email: mpbamboomission[at]mp[dot]gov[dot]in

2 thoughts on “|MP| बांस मिशन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, फॉर्म, लाभ व पात्रता & All Details”

  1. बांस का पौधा सरकार देगी लेकिन सरकार के लिए कितना पैसा देना होगा क्योंकि हमारे लिए ₹120 देगी सरकार सब्सिडी के

    Reply

Leave a Comment