प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना 2021: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म, लाभ व पात्रता

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना ऑनलाइन आवेदन | PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana Application Form | आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना रजिस्ट्रेशन | PMASBY Apply Online Form |

देश के हेल्थ सेक्टर को मजबूत करने हेतु हमारी वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का शुभारंभ 1 फरवरी 2021 को किया गया। इस योजना के माध्यम से हेल्थ सेक्टर के तीन क्षेत्रों में सबसे ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जाएगा। जिसके माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त करने में आसानी प्राप्त होगी। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना (PMASBY) से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य लाभ विशेषताएं पात्रता एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रही हैं। Atma Nirbhar Swasth Bharat Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारी इस लेख को विस्तार पूर्वक पढे।

Table of Contents

PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana

हमारे देश के नागरिकों को आत्मानिर्भर बनाने है स्वास्थ्य क्षेत्र में विकास करने के लिए आत्मनिर्भर  स्वास्थ्य भारत योजना को लागू किया गया है । प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के अंतर्गत हेल्थ सेक्टर के तीन क्षेत्रों से ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जाएगा जो है बचाव इलाज और रिसर्च हैं। PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana के अंतर्गत स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत मजबूत बनाने के लिए और संस्थानों का विकास किया जाएगा तथा मौजूदा हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को और मजबूत बनाया जाएगा। इस योजना के माध्यम से हमारे देश में स्वास्थ्य क्षेत्रों में विकास हो। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के अंतर्गत 17 हजार से अधिक ग्रामीण और 11000 से अधिक शहरी स्वास्थ्य केंद्र विकसित किया जाएगा और सभी जिलों में 60 अस्पताल ब्लाक की स्थापना की जाएगी। 

  • योजना के तहत ग्रामीण व शहर क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों को स्वास्थ्य संबंधित किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • |PMASBY| Swasth Bharat Yojana की शुरुआत 1 फरवरी सन 2021 को की गई है।
  • आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का शुभारंभ हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए शुरू की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से 60 अस्पताल ब्लाक की स्थापना की जाएगी।
प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना

आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना की मुख्य तथ्य

सरकार द्वारा शुरू की गई PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana के मुख्य तथ्य कुछ इस प्रकार हैं:-

योजना का नामप्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत 2021
किसके द्वारा शुरू की गईवित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा
योजना के लाभार्थीसम्पूर्ण भारतीय नागरिक
योजना का उद्देश्यस्वास्थ्य क्षेत्रों में विकास
योजना का लाभदेश के लोगों को आत्मनिर्भरता सक्षम बनाने का लाभ है
आवेदन की शुरू की तिथि1 फरवरी 2021
आवेदन की प्रक्रियाऑफलाइन / ऑनलाइन
योजना का बजट64,180 करोड़ रुपए
योजना के श्रेणी केंद्र की रूपरेखा 
अधिकारिक वेबसाइटwww.mohfw.gov.in 

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का उद्देश्य

दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आत्म निर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के नागरिकों को अपना स्वास्थ्य संबंधित इलाज करवाने के लिए अलग-अलग शहरों में भागना ना पड़े। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि देश में हेल्थ सेंटर में विकास किया जाएगा और  तीन क्षेत्रों पर सबसे ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जाएगा जैसे बचाव इलाज और रिसर्च। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के तहत देश में स्वास्थ्य सुविधाएं मजबूत की जाएंगी और उन्हें अस्पताल भी बनाए जाएंगे जिससे लोगों को इधर उधर जाने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी और नागरिक अपने शहर में रहकर ही अपना इलाज भी करवा सकते हैं। देश जितने भी अस्पताल है। उनमें काफी सुधार किया जाएगा ।

  • इस योजना उद्देश्य यह है कि ग्रामीण व शहरी क्षेत्र मैं रहने वाले लोगों को ज्यादा दो अस्पताल में जाना नहीं पड़ेगा उनके शहर में ही अस्पताल बनवा दिए जाएंगे।
  • Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana का बजट 64,180 करोड़ रुपयों।
  • इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में कहने वाले लाभार्थी को इधर उधर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी लाभार्थी अपने शहर में रहकर ही अपना इलाज करवा सकते हैं।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

उत्तर प्रदेश में आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत का हुआ शुभारंभ

हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा सोमवार यानी 25 अक्टूबर 2021 को उत्तर प्रदेश के दौरे पर रहकर प्रधानमंत्री दफ्तर से दोपहर 1:30 बजे प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का शुभारंभ किया गया। इसी के साथ-साथ प्रधानमंत्री जी के द्वारा 10:30 बजे प्रधानमंत्री सिद्धार्थनगर से 9 मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया गया और साथ ही साथ एक अधिकारिक बयान में घोषणा की गई कि प्रधानमंत्री वाराणसी के लिए लगभग 5200 करोड रुपए से ज्यादा विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन करेंगे। सरकार द्वारा इस योजना को 5 वर्ष तक चलाया जाएगा जिसके लिए प्रधानमंत्री द्वारा 64,180 रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।

9 मेडिकल कॉलेजों का किया गया उद्घाटन

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 25 सितंबर यानि सोमवार के दिन यूपी में PMASBY  का शुभारंभ किया गया। इस शुभ अवसर के दौरान प्रधानमंत्री जी के द्वारा 9 चिकित्सा महाविद्यालयों का भी उद्घाटन किया गया। इस शुभ अवसर के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया भी उपस्थित थे। माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा कहा गया कि देशभर में स्वास्थ्य ढांचा मजबूत करने के लिए यह एक देशव्यापी व सबसे बड़ी योजना है जो राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अतिरिक्त आरंभ की गई है।

आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का शुभारंभ

हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 25 अक्टूबर 2021 को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का शुभारंभ करेंगे। इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 64 हाजार 180 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि देश भर में स्वास्थ्य सेवाओं में बढ़ोतरी की जा सके। यह योजना 25 अक्टूबर को पूरे देश में लागू हो जाएगी और साथ ही साथ इंटीग्रेटेड हेल्थ इनफॉरमेशन पोर्टल का भी शुभारंभ किया जाएगा। 

  • इस पोर्टल के माध्यम से देश के सभी पब्लिक हेल्थ लेबो को जोड़ा जाएगा।
  • PMASBY के माध्यम से नेशनल हेल्थ फॉर डिजीज कंट्रोल को मजबूत किया जाएगा।

आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना को कैबिनेट बैठक द्वारा मिली मंजूरी

मेरे प्यारे दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमारे देश के नागरिकों को अच्छा स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए हमारी देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना (PMASBY) का शुभारंभ किया गया है। योजना के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने का निर्णय लिया है। इस योजना के तहत बुधवार 15 सितंबर 2021 को हुई केंद्रीय कैबिनेट में आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना को मंजूरी प्रदान की गई है। योजना के माध्यम से भविष्य में आने वाला 6 वर्षो में इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 64 करोड़ रुपये का खर्च किया जाएगा। इस योजना को राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अतिरिक्त चलाया जाएगा। 

  • PMASBY में आप भी जल्दी से आवेदन करें और इस योजना का लाभ पाएं।

क्रिटिकल केयर हॉस्पिटल ब्लॉक 602 जिलों में बनेंगे

इस योजना के माध्यम से प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के माध्यम से भारत के 602 जिलों में क्रिटिकल केयर हॉस्पिटल की स्थापना की जाएगी। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर सहायता योजना तहत इस बात की जानकारी कैबिनेट बैठक में अधिकारी द्वारा प्रदान की गई है। इन क्रिटिकल केयर हॉस्पिटल में 5 क्षेत्रीय शाखा और 20 महानगरीय स्वास्थ्य निगरानी इकाइयों का संचालन भी किया जाएगा। Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana के माध्यम से सरकार द्वारा बताया गया है कि संजीवनी स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं को जोड़ने के लिए और लोगों को जानकारी एकीकृत कराने के लिए एक स्वास्थ्य सूचना पोर्टल का भी विस्तार किया जाएगा। इसके तहत 17 नई सर्वजनिक स्वास्थ्य इकाइयां, 32 हवाई अड्डे, 11 बंदरगाहों और साथ लैंड क्रॉसिंग का संचालन भी किया जाएगा। 

आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का बजट

जैसे कि आप सब जानते हैं केंद्रीय बजट के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का शुभारंभ किया गया है। केंद्रीय बजट की घोषणा की दौरान बताया गया कि प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा अगले 6 वर्षों के लिए 64,181 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है । इस बजट का उपयोग करके देश के स्वास्थ्य सुविधाएं में अच्छा बदलाव किया जाएगा और देश के अस्पतालों को अच्छे से तैयार किया जाएगा जिससे नागरिकों सहारा प्राप्त होगा। आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना के माध्यम से नागरिकों को अलग-अलग शहरों में भी जाना नहीं पड़ेगा जिन चेहरों में वो रहते हैं उन चेहरों में अस्पताल बनवाए जाएंगे जिसने आसानी से जा सकते हैं।

  • और देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बड़े क्षेत्रों में मजबूत किया जाएगा बचाव, इलाज और रिसर्च ।
  • और साथ ही साथ Swasth Bharat Yojana के तहत दो मोबाइल अस्पताल की स्थापना भी की जाएगी जिससे लोगों को आने-जाने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा।
प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना

Integrated Health Information Portal

इस योजना के माध्यम से एकीकृत स्वस्थ सूचना पोर्टल के अंतर्गत नेशनल सेक्टर फॉर डिजील कंट्रोल 5 छत्रिय शाखाओं और 20 महानगरी स्वास्थ्य निगरानी इकाई की मजबूती की देखरेख की जाएगी। आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना के साथ सरकार द्वारा 17 मई सार्वजनिक स्वास्थ्य इकाइयों का भी निर्माण किया जाएगा और 33 मौजूदा सार्वजनिक स्वास्थ्य इकाइयों को मजबूत किया जाएगा जिसमें 32 हवाई अड्डे 11 बंदरगाह और छात्र भूमि क्रॉसिंग शामिल है। इसके अलावा इन सभी की निगरानी Integrated Health Information Portal द्वारा की जाएगी‌। इन सभी सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं को जोड़ने के लिए आरंभिक स्वास्थ्य सूचना पोर्टल का विस्तार सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में किया जाएगा। 

PMASBY में 15 स्वास्थ्य आपातकालीन संचालन केंद्र

दोस्तों जैसे कि आप सभी जानते हैं प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के अंतर्गत 15 स्वास्थ्य आपातकालीन संचालन केंद्र और दो मोबाइल अस्पताल भी स्थापित किए जाएंगे। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना को माध्यम से हेल्थ के लिए एक राष्ट्रीय संस्थान डब्लूएचओ दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र के लिए एक क्षेत्रीय अनुसंधान मंच होगा जो प्रयोगशालाओं और वायरोलॉजी के लिए चार क्षेत्रीय राष्ट्रीय संस्थानों की स्थापना करेगा। योजना के तहत 15 आपातकालीन केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार के आपातकालीन मरीजों की जांच करके उनका इलाज तुरंत करवाया जाएगा जिससे उन्हें किसी भी प्रकार परेशानियों का सामना भी नहीं करना पड़ेगा इस योजना से नागरिकों को बहुत लाभ पहुंचाया जाएगा।

आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का लाभ

इस योजना के लाभ कुछ इस प्रकार है:-

  • केंद्र सरकार ने इस योजना के लिए बजट की घोषणा की है।
  • इस बजट में विशेष ध्यान देने योग्य बात यह है कि यह देखभाल करता है।
  • हमारे देश के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना के शुरू किया गया है।
  • स्वास्थ्य के इलाज से मजबूत होने के साथ ही देश के सभी लोग आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना 2021 के माध्यम से लाभ उठाएं।
  • इस योजना के अंतर्गत 3 क्षेत्रों पर खास ध्यान दिया जाएगा जो कि बचाव, इलाज तथा रिसर्च है।
  • योजना का बजट अगले 6 साल के लिए ₹64,180 करोड रुपए है।
  • इस योजना के अंतर्गत 17000 ग्रामीण तथा 11000 शहरी हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर को समर्थन प्रदान किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत सभी जिलों के 3382 ब्लॉक में एकत्रित सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं की स्थापना की जाएगी।
  • PMASBY 2021 के अंतर्गत 60 जिलों में हॉस्पिटल ब्लॉक भी स्थापित किए जाएंगे।
  • इसी योजना के अंतर्गत 15 स्वास्थ्य आपातकालीन अनजान केंद्र खोलने भी जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से मौजूदा हेल्थ सेंटर और मजबूत बनाए जाएंगे ताकि लोगों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।
  • इस योजना के अंतर्गत पूरा खर्चा सरकार द्वारा किया जाएगा।
  • PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana के माध्यम से इंटीग्रेटेड हेल्थ इंफॉरमेशन पोर्टल के स्थापना की जाएगी।
  • के तहत कोविड-19 की वैक्सीन के नहीं है 35000 करोड रुपए का आवंटित किए जाएंगे तथा मिशन पोषण 2.0 की शुरुआत की जाएगी।
  • इस योजना के अंतर्गत आप भी आवेदन करवाना चाहते हैं और इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इसमें जल्दी से जल्दी आवेदन करें।

|PMKVY| प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

Features Of PM Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना की विशेषताएं कुछ इस प्रकार है:-

  • इस योजना को हमारे देश के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा आम बजट की घोषणा करते समय लॉन्च किया गया है
  • इस योजना के अंतर्गत 3 क्षेत्रों पर खास ध्यान दिया जाएगा जो कि बचाव, इलाज तथा रिसर्च है।
  • प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का बजट अगले 6 साल के लिए ₹64,180 करोड रुपए है।
  • इस योजना के तहत सरकार द्वारा अगले 6 वर्षों के लिए आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना का बजट निर्धारित किया गया है।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि भारत के लोगों को आत्मनिर्भर बनाना है और उनको मजबूत बनाए जाने का निर्णय लिया गया है।
  • PMASBY के अंतर्गत किए गए स्वास्थ्य सेंट्रल संचालित भी किए जाएंगे ताकि लोगों को कोई परेशानी नहीं हो।
  • इस योजना के माध्यम से आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना के अंतर्गत पूरे खर्चे सरकार द्वारा किए जाएंगे।
  • Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana के अंतर्गत 17000 ग्रामीण तथा 11000 शहरी हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर को समर्थन प्रदान किया जाएगा।
  • योजना के अंतर्गत सभी जिलों के 3382 ब्लॉक में एकत्रित सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रयोगशालाओं की स्थापना की जाएगी।
  • आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना 2021 के अंतर्गत 60 जिलों में हॉस्पिटल ब्लॉक भी स्थापित किए जाएंगे।
  • इसी योजना के अंतर्गत 15 स्वास्थ्य आपातकालीन अनजान केंद्र खोलने भी जाएंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत कोविड-19 की वैक्सीन के लिए 35000 करोड रुपए आवंटित किए जाएंगे तथा मिशन पोषण 2.0 की शुरुआत की जाएगी।
  • PMASBY में आप आवेदन करवाना चाहते हैं तो आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आवेदन करने की शुरू की तिथि 1 फरवरी  2021 है।

Eligibility Criteria Of Atmanirbhar Swasth Bharat Yojana

आवेदन के लिए निर्धारित पात्रता निम्नलिखित है:-

  • इच्छुक लाभार्थी को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • भारत का प्रत्येक नागरिक योजना के लिए पात्र है।
  • इस योजना को इस लिए बनाया गया है ताकि लोग आत्मनिर्भर रह सके इस योजना की शुरुआत 1 फरवरी 2021 को हुई है।

आत्मनिर्भर स्वास्थ्य भारत योजना की महत्वपूर्ण दस्तावेज़ 

सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज निम्नलिखित हैं:-

  • आधार कार्ड
  • राशन पत्रिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • बैंक के खाते का विवरण
  • आवास प्रामाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र

ऑनलाइन आत्मानिर्भर स्वस्थ भारत योजना आवेदन पत्र 2021 को लागू करने की प्रक्रिया

देश के सभी इच्छुक लाभार्थी जो इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • सबसे पहले उम्मीदवारों को आत्मानिर्भर स्वस्थ भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आप अपना आवेदन करवा सकते हैं।
ऑनलाइन आत्मानिर्भर स्वस्थ भारत योजना आवेदन पत्र 2021 को लागू करने की प्रक्रिया
  • अब आपके सामने होम पेज पर आपको अप्लाई के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आवेदन पत्र पृष्ठ स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  • अब आपको महत्वपूर्ण दस्तावेज़ दर्ज करें (सभी जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर, पता और अन्य जानकारी का उल्लेख करें) और दस्तावेज अपलोड करें।
  • आवेदन को अंतिम रूप से जमा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • इस तरह आप पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत के तहत आवेदन कर सकेंगे।

Leave a Comment