|PMGSY| प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म pmgsy.nic.in

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना ऑनलाइन आवेदन | Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana Application Form Download Pdf | ग्राम सड़क योजना ऑनलाइन फॉर्म | PM Gram Sadak Yojana Registration, Form, Login |

ग्रामीण इलाकों को शहरों तक रोड प्रदान करने हेतु भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से 500 या उससे अधिक आबादी वाले गांव को शहरों से सीधे जुड़ने के लिए सड़क मुहैया कराई जाएगी। आज हम आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 2022 से जुड़ी सभी जानकारी प्रदान करेंगे जैसे कि Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana क्या है? उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं ,पात्रता ,महत्वपूर्ण दस्तावेज़ आदि से जुड़ी सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारा आर्टिकल विस्तार पूर्वक पढ़ना होगा ।

Table of Contents

Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana 2022

इस योजना की शुरुआत 25 दिसंबर 2020 को भारत सरकार द्वारा की गई थी। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि 500 से अधिक आबादी वाले गांवों को सीधा शहरी क्षेत्रों से जोड़ा जा सके। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा गांव से लेकर शहरों तक सीधी सड़कें बनाई जाएंगी और साथ ही साथ उन सड़कों का अच्छी तरीके से ध्यान रखा जाएगा। Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि गांव के किसान सड़कों की मदद से शहरों से जुड़ सकें और अपनी फसलों को आसान तरीके से बेच सकें। 

  • PMGSY की सहायता से शहरों और गांवों में सड़क पहुंचाई जाएगी।
  • शहरों और गांवों की सड़कों की कनेक्टिविटी से आर्थिक और सामाजिक सहायता भी दी जाएंगी।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से छोटे किसान शहरों से सीधे जुड़ पाएंगे और अपनी फसल भी बेच पाएंगे।
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना‌ का मुख्य तथ्य

इस योजना के तहत कुछ मुख्य तथ्य इस प्रकार हैं:-

योजना का नामप्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना‌ 2022
किसके द्वारा शुरू की गईकेंद्र सरकार 
योजना का लाभार्थीभारत के नागरिक
योजना का लाभछोटे किसानों को इसका सबसे ज्यादा लाभ होगा
योजना का उद्देश्यग्रामीण क्षेत्रों के बारहमासी सड़कों से जुड़ना  
योजना किसके द्वारा लांच की गईअटल बिहारी वाजपेयी
आरंभ होने की तिथि25 दिसंबर 2000
विभागराष्ट्रीय ग्रामीण बुनियादी ढांचे का विकास
योजना का स्टेटसआरंभ है
अधिकारिक वेबसाइटClick Here

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का मुख्य उद्देश्य

जैसे की हम सभी जानते हैं कि किसानों को अपनी फसलों को बेचने के लिए गांव से शहर जाना पड़ता है और ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को विभिन्न कामों के लिए शहर जाने की आवश्यकता पड़ती है परंतु गांव से शहरों तक सीधी रोड ना होने के कारण उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या को मध्य नजर रखते हुए भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से गांव के क्षेत्रों को शहरों से जोड़ने के लिए एक सीधी सड़क बनाई जाएगी। इस योजना के तहत सड़क बनने के बाद ग्रामीण क्षेत्र के व्यक्ति शहरी क्षेत्रों तक आसानी से पहुंच सकते हैं एवं किसान अपनी फसलों को भी आसानी से देख सकते हैं।

  • पीएम ग्राम सड़क योजना का मुख्य उद्देश्य है कि गांव और शहरों को पक्की सड़क से जोड़ा जाए।
  • इस योजना के माध्यम से अपने गांव की सड़क भी ठीक करा सकते हैं क्योंकि सरकार ने एक मेरी सड़क एप जारी कर रहा है जिसकी सहायता से आप कोई भी शिकायत उस पर दर्ज कर सकते हैं।

मार्च 2025 तक पूरा किया जाएगा ग्राम सड़क योजना का लक्ष्य

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तीसरे चरण की शुरुआत 2019 में की गई थी। इस योजना को आरंभ करते समय ग्रामीण कृषि बाजार ओं उच्च माध्यमिक स्कूलों और अस्पतालों से जोड़ने वाली 1,25,000 किलोमीटर की सड़कें बनवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। हाल ही में ही सरकार द्वारा बताया गया है कि मार्च 2025 तक इस लक्ष्य को पूरा किया जाएगा। सरकार द्वारा कहा गया है कि इस योजना के तहत अधिकतर लंबे करने पूर्वोत्तर और पहाड़ी राज्यों में से हैं। इसी प्रकार वन मुद्दों जैसे कारणों से समय सीमा को बढ़ाने का अनुरोध किया गया है।

तेलंगाना में 11,342 किलोमीटर सड़क का काम पूरा हुआ

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत तेलंगाना में लगभग 14320 किलोमीटर सड़क लंबाई में से 11342 किलोमीटर सड़क की लंबाई को कवर करने का काम पूरा कर लिया है। केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति द्वारा बताया गया कि योजना के कार्यान्वयन के लिए मंत्रालय द्वारा राज्य को पूरी तरह से धनराशि जारी की गई है। आगे जिले स्तर पर कार्यान्वयन इकाइयों को निधियां जारी किए जाने वाले व्यक्ति के आधार पर संबंधित राज्य द्वारा किया जाएगा। साध्वी निरंजन ज्योति ने यह भी कहा कि पीएमजीएसवाई III के तहत, तेलंगाना को 2,427.50 किलोमीटर की लक्ष्य लंबाई आवंटित की गई थी, जिसमें से 1,119.94 किलोमीटर 22 जून, 2020 को राज्य को स्वीकृत की गई थी।

जल्द ही सुधारी जाएगी मार्गों की स्थिति

उत्तर प्रदेश में उपलब्ध उरई जिले में आधा दर्जन सड़कों के ऊंची करण व नवीनीकरण के लिए केंद्र सरकार द्वारा 30 करोड़ रुपये की धनराशि की स्वीकृति प्रदान की गई है। सरकार द्वारा बताया गया है कि जल्द ही इस प्रक्रिया के लिए टेंडर चालू किए जाएंगे। पुरानी सड़कों के लिए बजट ना होने के कारण तमाम सड़कें खराब हुई पड़ी थी और लोगों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा था। इन्हीं कठिनाइयों और जिले में हो रही दुर्घटनाओं को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत राशि को स्वीकृति दी गई है। धनराशि के माध्यम से जल्द ही मार्गों की स्थिति सुधारी जाएगी ताकि राज्य में हो रही दुर्घटनाओं को रोका जा सके और लोगों की कठिनाइयों को दूर किया जा सके।

पीएम ग्राम सड़क योजना I और II के प्रस्ताव को मिली मंजूरी

एक सरकारी विज्ञप्ति द्वारा बताया गया कि आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने आज शेष सड़क और पुल कार्यों को पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना I और II को सितंबर 2022 तक जारी रखने के प्रस्तावों को मंजूरी प्रदान कर दी है। यह प्रस्ताव ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा लाया गया था और प्रधानमंत्री जी की अध्यक्षता में सीसीईए ने इसे आगे बढ़ाया था। सरकार ने 2019 में मार्च, 2025 तक 1,25,000 किलोमीटर सड़क के समेकन के लिए PMGSY-III लॉन्च किया। 

  • PMGSY-III के तहत अब तक लगभग 72,000 किलोमीटर सड़क की लंबाई स्वीकृत की गई है, जिसमें से 17,750 किलोमीटर का काम पूरा हो चुका है। 
  • पीएमजीएसवाई के सभी चल रहे हस्तक्षेपों को पूरा करने के लिए 2021-22 से 2024-25 तक राज्य के हिस्से सहित कुल 1,12,419 करोड़ रुपये खर्च होने की संभावना है।

अरुणाचल प्रदेश के 192 सड़क परियोजनाओं को मिली मंज़ूरी


जैसे की हम सभी जानते हैं कि भारत सरकार द्वारा ग्रामीण इलाकों को शहरों से जोड़ने के लिए प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से अब ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को विभिन्न लाभ प्राप्त होंगे। हाल ही में ही अरुणाचल प्रदेश सरकार द्वारा राज्य की लगभग 192 सड़क परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान की गई। प्रदेश के 25 ज़िलों को इस योजना के तहत जोड़ा जाएगा। प्रदेश की समिति द्वारा 192 सड़कों परियोजनाओं को मंजूरी दी गई जिनकी लंबाई लगभग 1375 किलोमीटर तक होगी। इस योजना के तहत परियोजना को लगभग मार्च 2024 तक पूरा किया जाएगा जिससे लोगों को अधिक लाभ प्राप्त हो सकेंगे।

यूपी के शामली जिले में बनेंगी 9 सड़कें

केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के शामली जिले की 9 ग्रामीण सड़कों के निर्माण को मंजूरी प्राप्त हो चुकी है। जल्द ही इस योजना के तहत धनराशि प्राप्त करने के बाद इन सड़कों का निर्माण शुरू किया जाएगा। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत शामली जिले में सड़क के निर्माण के लिए सरकार द्वारा 57.24 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित किया गया है। कैराना सांसद प्रदीप चौधरी द्वारा बताया गया है कि इस योजना के तहत 79.50 किलोमीटर लंबाई की और 5.50 मीटर चौड़ाई की ग्रामीण क्षेत्र में 9 सड़कें बनाने के लिए लगभग यह लागत लग जाएगी। शामली जिले मैं 9 सड़कों के नाम एवं लागत कुछ इस प्रकार है:-

सड़क का नामलंबाई लागत
गांव कुतुबगढ़ से गांव हसनपुर लुहारी8.650 किलोमीटर4.95 करोड़ रुपये
गांव चोसाना से कस्बा ऊन9.90 किलोमीटर1.42 करोड़ रुपये
गांव केरटू से टोडा गांव के मोड़ तक8.20 किलोमीटर4.31 करोड़ रुपये
गांव जसाना से गांव मुंडेट खादर मार्ग तक16.500 किलोमीटर16.72 करोड़ रुपये
जलालाबाद से गांव अलीपुरा6.10 किलोमीटर3.40 करोड़ रुपये
गांव कुतुबगढ़ से गांव रायपुर5.10 किलोमीटर2.90 करोड़ रुपये
गांव के डोरी से गांव धनेना7.35 किलोमीटर4.11 करोड़ रुपये
गांव टोड़ा मोड़ से गांव पांथूपुरा10.10 किलोमीटर6.10 करोड़ रुपये
गांव रामडा से मलकपुर7.60 किलोमीटर4.87 करोड़ रुपये

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का बजट


इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार द्वारा 80,250 करोड रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस कुल बजट में से केंद्र सरकार द्वारा 53,800 करोड रुपए का बजट जारी किया जाएगा और बाकी यानी 26450 करोड़ रुपए राज्य सरकारों द्वारा जारी किए जाएंगे। सरकार द्वारा बताया गया है कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 1,25,000 किलोमीटर लंबी सड़कें बनाई जाएंगी जिससे ग्रामीण इलाके शहरी इलाके और आसपास की जगहों को जोड़ा जा सकेगा। ‌ सरकार द्वारा सड़कों का बड़ा नेटवर्क बनाने हेतु इस योजना का शुभारंभ किया गया है। अब ग्रामीण क्षेत्र के इलाकों के लोगों को किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा वह इन सड़कों का उपयोग कर कहीं भी जा आ सकते हैं।

ग्राम सड़क योजना के तहत सड़क की समीक्षा की गई

लिकाबली विधायक कार्दो न्यग्योर ने रविवार को कांगकू सर्कल लोअर सियांग जिले के अंतर्गत बालिसोरी, सिलोनी और दुरपई में फैली 60 किलोमीटर लंबी प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) सड़क की समीक्षा की। विधायक द्वारा बताया गया कि यह परियोजना असम अरुणाचल सीमा के कई गांव के नियम एक बहुत महत्वपूर्ण योजना है। साथ ही साथ आरडब्ल्यूडी के अधिकारियों और ठेकेदारों को गुणवत्ता से समझौता किए बिना परियोजना को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। साथी साथ विधायक द्वारा असम के लोगों से अपील की गई कि जहां परियोजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा गिरता है वहां पर योजना में बाधा ना डालें। और विधायक द्वारा लोगों से मदद करने का आग्रह किया गया।

ग्रामीण सड़कों के नेटवर्क के सतत प्रबंधन

भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश से गरीबी को कम किया जा सके और ग्रामीण सड़कों के नेटवर्क के साथ प्रबंधन सुनिश्चित किया जा सके। इस योजना के माध्यम से प्रबंधन मानकों को स्थापित किया जाएगा और राज्य स्तर पर नीति विकास सुविधाजनक बनाने का प्रयास किया जाएगा। Gram Sadak Yojana को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि हर मौसम में ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अच्छी सड़क कनेक्टिविटी प्रदान की जाए ताकि उन्हें शहर आने जाने में किसी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।

Statistics Of PM Gram Sadak Yojana

No. Of work cleared180,492
New connectivity works119,452
Upgradation work61,040
Completed Road Work165,139
Completed length673,923
Road work in progress15,353
No of complaints register129,785
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का लाभ

इस योजना के कुछ मुख्य लाभ इस प्रकार है :-

  • इस योजना को सरकार द्वारा 25 दिसंबर 2000 में आरंभ किया गया था ताकि लोग इस योजना का लाभ उठा पाए।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में 500 या उससे अधिक आबादी वाले पहाड़ों और रेगिस्तानी क्षेत्रों में 250 लोगों की आबादी वाले गांवों को बारहमासी सड़कों से जुड़ना है।
  • इस योजना के माध्यम से पुरानी सड़कों को भी नए सिस्टम के हिसाब से अपडेट किया जाएगा।
  •  पुरानी सड़कों को पक्की सड़कों से भी जोड़ा जाएगा जिस कि सहायता से लोगों को आने जाने में आसानी होगी।
  • PMGSY का लाभ छोटे किसानों को भी होगा जिसकी सहायता से वह शहर से जुड़ पाएंगे।
  • किसान अपनी फसलों को भी आसानी से बेच पाएंगे।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा कि यदि अगर कोई सड़क खराब हो रही है या किसी तरह की परेशानी है तो उसको ठीक कराया जाए।
  • PM Gram Sadak Yojana के माध्यम से आप अपने गांव की सड़क भी सही करा सकते हैं जिसके लिए सरकार ने मेरी सड़क के नाम से एक सरकारी ऐप भी जारी कर रखा है।
  • मंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत रेल क्रॉसिंग और की तिराहों पर ओवरब्रिज बनाने का भी काम भी शामिल है।
  • गृह मंत्रालय द्वारा चिह्नित विशेष श्रेणी राज्यों और वाम उग्रवाद प्रभावित जिलों के संबंध में 200 मीटर तक।
  • अन्य राज्यों के संबंध में 150 मीटर तक।

Features of Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana

सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना की विशेषताएं कुछ इस प्रकार है :-

  • योजना की शुरुआत 25 दिसंबर 2000 को शुरू की गई है।
  • Pradhan Mantri Gram Sadak Yojana के माध्यम से पुरानी सड़कों को भी नए सिस्टम के हिसाब से अपडेट किया जाएगा।
  • पुरानी सड़कों को पक्की सड़कों से भी जोड़ा जाएगा जिस कि सहायता से लोगों को आने जाने में आसानी होगी।
  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि भारत के नागरिकों को सड़क पर आसानी से जा सके।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में सड़कों को सही रखना यानी अगर किसी तरह की परेशानी से सड़क खराब हो जाती है तो उसका भी ख्याल रखा जाएगा।
  • योजना का सबसे ज्यादा फायदा गांव में होगा जहां छोटे किसान चेहरों से सीधा जुड़ सकेंगे और अपनी फसल को आसानी से बेच पाएंगे।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के माध्यम से ग्रामीण इलाकों में 500 या उससे अधिक आबादी वाले पहाड़ों और रेगिस्तानी क्षेत्रों में 250 लोगों की आबादी वाले गांवों को बारहमासी सड़कों से जुड़ना है।
  • PMGSY के माध्यम से गांव तक विकास पहुंचता दिखाई दे रहा है इसके अलावा ग्रामीण स्तर पर ही रोजगार के कुछ अक्सर ही सृजित होते हैं।
  • इस योजना के तहत आप अपने गांव की सड़क भी सही करवा सकते हैं इसके लिए सरकार ने मेरी सड़क के नाम से एक सरकारी ऐप लॉन्च किया है ।
  • प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत रेल क्रासिंग और तिराहों पर ओवर ब्रिज बनाने का काम भी शामिल है।
  • इस योजना में अगर आप भी आवेदन करवाना चाहते हैं तो इसमें जल्दी से जल्दी आवेदन करें।

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की पात्रता

इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हेतू उन्हें नीचे दिए गए पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा।

  • आवेदक भारतीय निवासी होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के माध्यम से आप अपने गांव की सड़क भी सही करा सकते हैं जिसके लिए सरकार ने मेरी सड़क के नाम से एक सरकारी ऐप जारी कर रखा है।

Important Documents Of PMGSY

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेजों की सूची कुछ इस प्रकार है:- 

  • आवेदक का आधार कार्ड पहचान पत्र (वोटर कार्ड, PAN कार्ड )
  • बैंक खाते से जुड़ी जानकारी
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • आय प्रमाण पत्र

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 2022 के कांट्रेक्टर रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

वह सभी कांट्रेक्टर जो रजिस्ट्रेशन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • कांट्रेक्टर रजिस्ट्रेशन करने हेतु आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Contractor Registration के विकल्प पर क्लिक करना है।
प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना 2022 के कांट्रेक्टर रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • यहां पूछी गई सभी जानकारी आपको दर्ज करनी है जैसे Firm Name, PAN Card, Email ID तथा Mobile Number 
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Submit के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार कांट्रेक्टर रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे।

ग्राम सड़क योजना के तहत लॉगइन प्रक्रिया

देश के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत लॉगइन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • लॉग इन करने हेतु आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Login के विकल्प पर क्लिक करना है।
ग्राम सड़क योजना के तहत लॉगइन प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने लॉगइन पेज खुल कर आएगा।
  • यहां आपको सभी जानकारी जैसे Username तथा Password दर्ज करना है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप लॉग इन कर पाएंगे।

रोड लोकेट करने की प्रक्रिया

वह इच्छुक लाभार्थी जो रोड लोकेट करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • रोड लोकेट करने हेतु आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Locate Road के विकल्प पर क्लिक करना है।
रोड लोकेट करने की प्रक्रिया
  • करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी है जैसे District, State, Block तथा Habitation
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Get Details के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपके सामने संबंधित जानकारी खुलकर आ जाएगी।

फीडबैक दर्ज करने की प्रक्रिया

जो इच्छुक लाभार्थी अपना फीडबैक दर्ज करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • फीडबैक दर्ज करने हेतु आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको General Feedback विकल्प पर क्लिक करना है।
फीडबैक दर्ज करने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने फीडबैक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे Name, Address, Telephone, Mobile, Email, Feedback तथा Captcha Code दर्ज करना है।
  • जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Submit के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार फीडबैक दर्ज कर पाएंगे।

फीडबैक स्टेटस देखने की प्रक्रिया

जो व्यक्ति फीडबैक दर्ज करने के बाद अपना स्टेटस देखना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • फीडबैक स्टेटस देखने हेतु आपको प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Feeback Status के विकल्प पर क्लिक करना है।
फीडबैक स्टेटस देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • यहां आपको Token Number और Contact Details जानकारी दर्ज करनी है।
  • दर्ज करने के बाद आपको View Details के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आपके सामने फीडबैक स्टेटस खुल कर आ जाएगा।

रोड के रिन्यूअल का एक्सपेंडिचर देखने की प्रक्रिया

वह लाभार्थी रोड के रिन्यूअल का एक्सपेंडिचर देखना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • रोड के रिन्यूवल का एक्सपेंडिचर देखने हेतु प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Expenditure On Renewal Of Roads के विकल्प पर क्लिक करना है।
रोड के रिन्यूअल का एक्सपेंडिचर देखने की प्रक्रिया
  • क्लिक करने की बात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको Year, Scheme तथा State दर्ज करना है।
  • दर्ज करते ही आपके सामने संबंधित जानकारी खुलकर आ जाएगी

Contact Details

कांटेक्ट डिटेल्स देखने हेतु नीचे दिए गए चरणों को ध्यानपूर्वक पढ़ें:-

  • कॉन्टैक्ट डीटेल्स प्राप्त करने हेतु प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Contact Details विकल्प पर क्लिक करना है।
Contact Details
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको संबंधित जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

Leave a Comment