PM Kisan FPO Yojana 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म Pdf | लाभ व पात्रता

PM Kisan FPO Yojana ऑनलाइन आवेदन | पीएम किसान एफपीओ योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | PM Kisan FPO Yojana Application Form PDF | पीएम किसान एफपीओ योजना Interest Rates |

देश के किसानों को विभिन्न प्रकार की सहायता प्रदान करने हेतु केंद्र सरकार द्वारा पीएम किसान एफपीओ योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे उनकी आय में बढ़ोतरी होगी। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से पीएम किसान एफपीओ योजना  सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि उद्देश्य, लाभ, पात्रता, विशेषताएं, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन की प्रक्रिया आदि स्पष्ट करने जा रहे हैं। PM Kisan FPO Yojana 2022 से जुड़े सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारा आर्टिकल अंत तक विस्तार पूर्वक पढ़ना होगा।

PM Kisan FPO Yojana 2022

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई है। इस योजना के तहत किसान उत्पादक संगठन को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे। देश भर के किसानों को नया कृषि बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार की तरफ से वित्तीय सहायता दी जाएगी। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए 11 किसानों को मिलकर एक आर्गनाइजेशन या कंपनी बनानी होगी। PM Kisan FPO Yojana के माध्यम से संगठनो को सरकार द्वारा सिर्फ वही फायदे भी प्रदान किए जाएंगे जो एक कंपनी को प्रदान किए जाते हैं। इस योजना के तहत दी जाने वाली धनराशि 3 सालों में प्रदान की जाएगी इस योजना के माध्यम से देश के 10,000 ने किसानों का संगठन बनाया जाएगा जिससे वे अपनी आर्थिक स्थिति को सुधार सकते हैं और अपनी परेशानियों को भी दूर कर सकते हैं।

  • इस योजना की शुरुआत केंद्रीय सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की गई है।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के माध्यम से एफपीओ एक प्रकार का किसान उत्पादक संगठन है।
  • इस योजना के माध्यम से संगठनों को 1500000 रुपए की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी।
PM Kisan FPO Yojana 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म Pdf | लाभ व पात्रता

पीएम किसान एफपीओ योजना के मुख्य तथ्य

इस योजना के तहत मुख्य तथ्य निम्नलिखित हैं:-

योजना का नामपीएम किसान एफपीओ योजना 2022
किसके द्वारा शुरू की गईकेंद्रीय सरकार द्वारा शुरू की गई
योजना का उद्देश्यकिसानों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी
योजना के लाभार्थीदेश के किसान उत्पादक संगठन
योजना का लाभकिसान उत्पादक संगठन वाले किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन या ऑफलाइन
योजना का साल2024
टोल फ्री नंबर18002700224
योजना की धनराशि1500000 रुपए
आधिकारिक वेबसाइटenam.gov.in

पीएम किसान एफपीओ योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य कृषि सेक्टर को आगे बढ़ाना। इस योजना के ज़रिये किसानो की आय में वृद्धि करना और किसानो के हित में कार्य करना। PM Kisan FPO Scheme के ज़रिये देश के किसानो को उसी तरह फायदा होगा जैसे कारोबार में होता है। इस योजना के माध्यम से उत्पादक संगठन यानी एफबीओ के केंद्र सरकार द्वारा 15-15 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना का उद्देश्य कृषि सेक्टर को आगे बढ़ाना है और इस योजना के माध्यम से किसानों को काफी लाभ पहुंचेगा जिससे वे अपने आर्थिक स्थिति में सुधार लाएंगे।

  • प्रधानमंत्री किसान एफपीओ योजना के तहत किसानों को आर्थिक स्थिति में लाभ पहुंचाया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से खेती करने से उन्हें ज्यादा फायदा नहीं मिल रहा। इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने एक नई योजना निकाली है।
  • इसी योजना के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा 15 15 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

किसानों की आय में होगी वृद्धि 

केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानो को आर्थिक राहत पहुंचाने के लिए पीएम किसान FPO योजना को शुरू किया है। पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत मधुमक्खी पालक को स्थापित करने की घोषणा कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी के माध्यम से पांच राज्यों के लिए की गई है, यह 5 जिले मध्य प्रदेश का मुरैना, पश्चिम बंगाल का सुंदरवन, बिहार का पूर्वी चंपारण, राजस्थान का भरतपुर तथा उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले का नाफेड है और 26 नवंबर 2020 को 5 जिलों में FPO को शुरू करा है, जिसके माध्यम से 10000 FPO बनाने का सरकार ने लक्ष्य रखा है।

  • केंद्र सरकार ने पीएम किसान एफपीओ योजना 2022 को देश के किसानो को लाभ पहुचाने और आय में बढ़ोतरी लाना है। 
  • जिसके लिए सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत 500 करोड़ रुपए पीएम किसान एफपीओ योजना के लिए निर्धारित किये है।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के द्वारा सरकार भारत को शहद उत्पादन में आगे बढ़ावा देना है। 
  • केंद्र सरकार ने इन 5 जिलों के मध्य प्रदेश का मुरैना, पश्चिम बंगाल का सुंदरवन, बिहार का पूर्वी चंपारण, राजस्थान का भरतपुर तथा उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले का नाफेड को FPO 4 के द्वारा 5 हजार शहद उत्पादकों को लाभ पहुचाया जाएगा और 60,000  क्विंटल शहद उत्पन्न की जाएगी।

PM Kisan FPO Yojana 2022

इस योजना के अनुसार यदि संगठन मैदानी क्षेत्र में काम करता है। तो उसमें कम से कम 300 किसान का जुड़े होना आवश्यक है। इसी तरह यह संगठन पहाड़ी क्षेत्र में काम करता है। तो 100 किसानो का इससे जुड़े होना आवश्यक है। इस योजना का लाभ उठाने में सक्षम होंगे। इस योजना का लाभ उठाने के लिए देश के किसानो को योजना के अंतर्गत आवेदन करना आवश्यक है। पीएम किसान FPO योजना के अनुसार देश के किसानो अन्य प्रकार के भी लाभ होंगे जैसे बने संगठनों से जुड़े किसानों को अपनी उपज के लिए बाजार मिलेगा और उनके लिए खाद, बीज, दवाई और कृषि उपकरण जैसे जरूरी सामान खरीदना बेहद आसान हो जायेगा।

  • एक और बड़ा फायदा होगा कि किसान बिचौलियों से मुक्ति हो जाएंगे।
  • जिससे की एफपीओ सिस्टम में किसानों को अपनी फसल के लिए अच्छा रेट मिल पायेगा।

एफपीओ योजना के तहत 10000 समूह का होगा गठन

इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 2023 2024 तक शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों के पास एक एक्टर्स या उससे कम कृषि भूमि पर मलिकाना हक है। इस योजना के अंतर्गत 10,000 एफपीओ समूह बनाने की घोषणा सरकार द्वारा की गई है। PM Kisan FPO Yojana के माध्यम से किसानों के उत्पादन में भी बढ़ोतरी होगी एवं वे आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनेंगे। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से कृषि उद्यमी कौशल भी विकसित होगा।पीएम किसान एफपीओ योजना के माध्यम से केंद्र सरकार किसानों को 15 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने जा रही है। किसानों की आर्थिक मदद के लिए केंद्र सरकार लगातार प्रयासरत है। केंद्रीय सरकार द्वारा 10000 एपीओ के लिए 4496 करोड़ रुपए का आवंटन किया गया है।

  • इसके अलावा सरकार की ओर से सन 2027-28 तक 2370 करोड़ रुपए की अतिरिक्त वित्तीय सहायता प्रदान करने का भी लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 
  • इस योजना के माध्यम से 2027-28 तक कुल 6886 करोड रुपए की आर्थिक सहायता किसानों को पहुंचाई जाएगी। 
  • किसानों के उत्पादन में भी बढ़ोतरी होगी एवं वे आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से कृषि उद्यमी कौशल भी विकसित होगा। नए एफपीओ को सरकार की ओर से 5 साल तक के लिए हैंड होल्डिंग और सहायता भी प्रदान की जाएगी।

किसानों को नहीं देना होगा ब्याज शुल्क

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। और इस योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आप टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं टोल फ्री नंबर 1800 270 224 है। पीएम किसान एफपीओ योजना के माध्यम से छोटे और सीमांत किसान इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं इस योजना के माध्यम से किसान साहूकारों से बच सकेंगे और किसान पात्रता मदनपुरा करते हैं तो इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को इच्छुक 11 किसानों का समूह बनाना होगा इसके अलावा 11 किसानों को समूह एफपीओ के रूप के लिए काम करना होगा।

  • प्रदान की गई व्यास पर सरकार द्वारा कोई भी भारी ब्याज शुल्क नहीं देना होगा।
  • इस समूह को किसानों को कंपनी अधिनियम के तहत रजिस्टर करवाना होगा।
  • PM Kisan FPO Yojana में रजिस्टर करवाने के बाद एफपीओ एक कंपनी के तौर पर काम कर सकता हैं।
  • पीएम किसान एफपीओ को वे सभी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी जो एक कंपनी को प्रदान की जाती हैं।

Benefits of PM Kisan FPO Yojana

इस योजना के तहत लाभ निम्नलिखित हैं:-

  • इस योजना का लाभ देश के किसानों को प्रदान किया जाएगा।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के तहत संगठन मोदानी क्षेत्रों में काम करता है तो उसमें कम से कम 300 किसान जुड़े होने चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत संगठन पहली क्षेत्र में काम करता है तो 100 किसानों को इससे जुड़ा होना अनिवार्य है।
  • इस योजना के माध्यम से किसानों को लाभ उठाया जाएगा।
  • देश के किसान आपदा संगठनों को केंद्रीय सरकार द्वारा ₹15 लाख रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा यह धनराशि 3 साल के भीतर प्रदान की जाएगी।
  • इसी योजना के अंतर्गत देश के किसान अन्य प्रकार के भी फायदे होंगे जैसे बने संगठनों से जुड़े किसान को अपनी उपज के लिए बाजार मिलेगा।
  • PM Kisan FPO Yojana में साथ ही उनके लिए खाद, बीज, दवाई और कृषि उपकरण जैसे जरूरी सामान खरीदना बेहद आसान होगा।
  • इस योजना के माध्यम से जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा।
  • आवेदन करवाने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

पीएम किसान एफपीओ योजना की विशेषताएं

केंद्र सरकार द्वारा की गई इस योजना की विशेषताएं कुछ इस प्रकार है:-

  • इस योजना का लाभ देश के किसानों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना में केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कौशल चौधरी ने बताया कि मोदी सरकार 10,000 ने किसान अपना संगठन बनाएगी।
  • PM Kisan FPO Yojana के माध्यम से साल 2024 तक इस पर 6865 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत सरकार हर एफपीओ किसानों को 5 साल के लिए सरकारी समर्थन दिया जाएगा।
  • केंद्र सरकार द्वारा संगठन के काम को देखने के बाद 15 लाख रुपए की सहायता प्रदान की जाएगी।
  • इस सहायता की पूरी राशि 3 वर्षों में प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से सारे फायदे मिलेंगे जो एक कंपनी को मिलते हैं।
  • अंतर्गत कुल 3000000 किसान लाभान्वित होंगे।
  • योजना का मकसद किसी उद्योग को बराबर ही खेती से मुनाफा हासिल करना होगा।
  • देश में कृषि का विस्तार होगा और किसानों को आर्थिक हालत ही बेहतर होगी।
  • पीएम किसान एफपीओ योजना के अंतर्गत देश के किसानों को दी जाने वाली धनराशि नकद प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना में छोटे और सीमांत किसानों को संभोग बनेंगे जिससे उन्हें लाभ प्रदान होगा।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

पीएम किसान एफपीओ योजना की पात्रता

वह सभी व्यक्ति को इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो उन्हें नीचे दिए गए पात्रता मानदंड को पूरा करना होगा:-

  • इच्छुक लाभार्थी को पेशे से किसान होना अनिवार्य है।
  • उम्मीदवारों को भारतीय निवासी होना अनिवार्य है।
  • प्लेन क्षेत्र में एक एफपीओ में कम से कम 300 सदस्य होने चाहिए।
  • पहाड़ी क्षेत्र में एक एसपीओ में कम से कम 100 सदस्य होने चाहिए।
  • पीएम किसान एफपीओ के पास स्वयं की कृषि योग्य भूमि होनी अनिवार्य है एवं उसे समूह का हिस्सा होना भी अनिवार्य है।

Important Documents Of PM Kisan FPO Yojana

इस योजना में महत्वपूर्ण दस्तावेज कुछ इस प्रकार दे रखे हैं:-

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जमीन के कागजात
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर

पीएम किसान एफपीओ योजना 2022 के तहत आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के इच्छुक लाभार्थी इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

PM Kisan FPO Yojana 2022 के तहत आवेदन की प्रक्रिया
  • अब आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको FPO के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PM Kisan FPO Yojana 2022 के तहत आवेदन की प्रक्रिया
  • इसके बाद आपको Registration के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PM Kisan FPO Yojana 2022 के तहत आवेदन की प्रक्रिया
  • अब आपके सामने रेजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको दर्ज करनी होंगी।
  • रजिस्ट्रेशन टाइप
  • रजिस्ट्रेशन लेवल
  • फुल नेम
  • जेंडर
  • एड्रेस
  • डेट ऑफ बर्थ
  • पिन कोड
  • डिस्ट्रिक्ट
  • फोटो आईडी टाइप
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • कंपनी नेम
  • स्टेट
  • तहसील
  • फोटो आईडी नंबर
  • अल्टरनेट मोबाइल नंबर
  • लाइसेंस नंबर
  • कंपनी रजिस्ट्रेशन
  • बैंक नेम
  • अकाउंट होल्डर नेम
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • आईएफएससी कोड
  • इसके बाद आपको पासबुक या फिर कैंसिल चेक एवं आईडी प्रूफ को स्कौन करके अपडेट करना होगा।
  • इसके बाद आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पी एफ ओ योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं आसानी से।

पीएम किसान एफपीओ योजना के अंतर्गत लोगिन करने की प्रक्रिया

वह लाभार्थी जो लॉग इन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • लॉगिन करने हेतु उम्मीदवारों को सबसे पहले पीएम किसान एफपीओ योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको FPO विकल्प पर क्लिक करना होगा।
पीएम किसान एफपीओ योजना के अंतर्गत लोगिन करने की प्रक्रिया
  • अब आपको Login के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
पीएम किसान एफपीओ योजना के अंतर्गत लोगिन करने की प्रक्रिया
  • इसके बाद आपके सामने लॉगइनफॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको यूजरनेम पासवर्ड तथा कैप्चा कार्ड दर्ज करने होंगे।
  • अब आपको इसके बाद लॉगिंग के बिखर पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह से आपकी लॉगिन की प्रक्रिया पूरी हो गई है।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

वह लाभार्थी जो ग्रीवेंस दर्ज करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • इच्छुक लाभार्थी को सबसे पहले राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Contact Us के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया
ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया
  • अब आपको Open New Ticket के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया
  • इसके बाद आपको अपना यूजर नेम तथा पासवर्ड दर्ज करके साइन इन करना होगा।
  • अब आपके सामने ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर पाएंगे।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

वह लाभार्थी जो ग्रीवेंस स्टेटस चेक करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • सर्वप्रथम आपको राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Contact Us के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया
  • अब आपको Check Ticket Status के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया
  • अब आपको अपना ईमेल आईडी तथा टिकट नंबर दर्ज करना होगा।
  • इसके बाद आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • ग्रीवेंस स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

Contact information

इस योजना के तहत संपर्क विवरण कुछ इस प्रकार है :-

  • पता :- एनसीयूआई ऑडिटोरियम बिल्डिंग, 5वीं मंजिल, 3, सिरी इंस्टीट्यूशनल एरिया, अगस्त क्रांति मार्ग, हौज खास, नई दिल्ली – 110016
  • हेल्पलाइन नंबर :- 18002700224 – +91-11- 26862367
  • ईमेल आईडी :-www.india.gov.in

Leave a Comment