प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट | Apply PM Fasal Bima Yojana List at pmfby.gov.in | फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन | Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Registration |

प्राकृतिक आपदाओं के कारण बर्बाद होने वाली फसलों पर बीमा प्रदान करने हेतु केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के किसानों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाया जाएगा। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, बेनिफिशियरी लिस्ट, आवेदन की स्थिति एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana से संबंधित पूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

Table of Contents

About Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

इस योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश के किसानों के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं जैसे सूखा पड़ना ओले पड़ना आदि के कारण होने वाली बर्बाद फसलों पर बीमा उपलब्ध कराया जाएगा। Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के कार्यान्वयन की जिम्मेदारी भारतीय कृषि बीमा कंपनी को सौंपी गई है। ‌ यदि किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदाओं से नहीं बल्कि किसी और कारण खराब हुई है तो उसे यह बीमा राशि नहीं प्रदान की जाएगी। देश के जिन इच्छुक किसानों ने इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया है वह अब अपना नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में आसानी से देख सकते हैं।

  • केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के लिए 8800 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित कर दिया गया है।
  • Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के तहत किसानों को खरीफ फसल पर 2% और राबी फसल पर 1.5% का भुगतान बीमा कंपनियों को करना होगा।
  • इन दोनों फसलों पर किसानों को बीमा उपलब्ध कराया जाएगा।
  • यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट के मुख्य तथ्य

इस योजना के तहत मुख्य तथ्य कुछ इस प्रकार है:-

योजना का नामप्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021
किसके द्वारा शुरू की गईकेंद्र सरकार द्वारा
आरंभ तिथि13 जनवरी 2016
योजना के लाभार्थीदेश के किसान
योजना का उद्देश्यकिसानों को आत्मनिर्भर बनाना
योजना का लाभबर्बाद हुई फसलों पर बीमा प्रदान करना
बीमा राशि2 लाख रुपये
विभागमिनिस्ट्री ऑफ एग्रीकल्चर एंड फार्मर्स वेलफेयर
फोन नंबर01123382012
हेल्पलाइन नंबर01123381092
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटpmfby.gov.in

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सभी जानते हैं प्राकृतिक आपदाओं जैसे सूखा पड़ना एवं ओले पड़ने के कारण हमारे देश के किसानों की फसलों को काफी नुकसान का सामना करना पड़ता है। और ऐसे में किसान काफी चिंतित रहते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से खेती करने वाले किसानों को फसलों के नुकसान से बचाने के लिए बीमा कवर मुहैया कराया जाएगा। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि हमारे देश के किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बने एवं उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।

  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि किसानों को नुकसान हुई फसलों पर इंश्योरेंस प्रदान किया जा सके।
  • इस योजना के माध्यम से हमारे देश के किसान आत्मनिर्भर बनेंगे।
  • उन्हें फसल के बर्बाद होने पर किसी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • आवेदन करने के बाद देश के किसान अपने नाम की जांच प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट आसानी से कर सकते हैं

किसानों के लिए योजनाएं

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in

किसान 31 दिसंबर 2021 तक कर सकते हैं आवेदन

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत आवेदन की प्रक्रिया 31 दिसंबर 2031 तक निर्धारित कर दी गई है। वह सभी व्यक्ति जो इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें 31 दिसंबर 2021 तक आवेदन करना होगा। साथ ही साथ उपमंडल कृषि डॉ कृष्ण कुमार जी के द्वारा बताया गया है कि वह सभी किसानों को फसलों की स्थिति स्पष्ट करनी होगी और जल्द से जल्द मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर आवेदन करना होगा। आवेदन करने के लिए किसानों को अपनी फसल का सटीक विवरण दर्ज करना होगा। साथ ही साथ सरकार द्वारा निर्देश जारी किए गए हैं कि किसानों को 13 दिसंबर 2021 तक अपनी फसलों की स्थिति बैंक में जाकर स्पष्ट करनी होगी। 

शिकायत दर्ज करने हेतु खंड स्तर पर खुलेंगे दरबार

3 अक्टूबर 2021 से कृषि विभाग द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित शिकायत निवारण के लिए खंड स्तर पर दरबार खोले जाएंगे। सभी किसान जिन्हें किसी कारणवश बीमा नहीं मिल पाया है वह अपनी शिकायत आसानी से इन खंडों में दर्ज कर सकते हैं। शिकायतें दर्ज होने के बाद जिला स्तरीय कमेटी द्वारा शिकायतों का निवारण किया जाएगा और किसानों को बीमा मुहैया कराया जाएगा। आने वाले रविवार के दिन खुले दरबारों का आयोजन किया जा रहा है। अब देश का प्रति भी मत किसान अपनी सुविधा के अनुसार शिकायत दर्ज कर सकता है और उसका निवारण पा सकता है। 

किसानों को मिला 26.51 करोड़ रुपये का मुआवजा

छत्तीसगढ़ राज्य के 7470 किसानों को खरीफ सीजन 2020 में क्षतिपूर्ति के रूप में 26.51 करोड़ रूपए की राशि का मुआवजा प्रदान किया गया। किसानों के खातों में हस्तांतरित की गई इस राशि की जानकारी उन्हें एक एसएमएस के द्वारा प्रदान की गई। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ एक बार फिर से राज्य के किसानों को प्राप्त हुआ है। परंतु अभी भी लगभग 480 किसान ऐसे हैं जिन्हें राशि का भुगतान नहीं किया गया है। उम्मीद है कि बकाया किसानों को भी जल्द से जल्द इस राशि का भुगतान किया जा सके ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।

उत्तर प्रदेश के 2620 किसानों को मिला फसल बीमा योजना का लाभ

जैसे के हम सभी जानते हैं की बाढ़ या अन्य कारणों के कारण उत्तर प्रदेश के किसानों की काफी फसलें बर्बाद हुई है‌। राज्य के सीडीओ ने 18 सितंबर यानी शनिवार के दिन 2620 किसानों के खातों में 81,29,142 रुपये की धनराशि हस्तांतरित की गई। अब तक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 1444 किसानों ने बीमा करवाया है। इस राशि का उपयोग करके राज्य के किसान अपनी फसलों के नुकसान की भरपाई कर सकेंगे। इस बैठक के दौरान जिला प्रबंधक द्वारा बताया गया है कि जिले में खरीफ सीजन 2021 में 19444 किसानों को फसल पर बीमा प्राप्त हुआ है। वर्ष 2021 में 19,665 किसानों का फसल बीमा हुआ है।

  • इस शुभ अवसर पर सीडीओ द्वारा निर्देश दिए गए कि Fasal Bima Yojana के तहत प्रचार-प्रसार कराया जाए ताकि अधिक से अधिक किसानों को इस योजना का लाभ प्राप्त हो।
  • इस बैठक के दौरान उप कृषि निदेशक कमल कटियार, जिला कृषि अधिकारी अवधेश कुमार यादव, अग्रणी जिला प्रबंधक इंडियन बैंक, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी विद्यासागर गुप्त आदि मौजूद थे।

एमपी के 47 लाख किसानों ने किया आवेदन

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष मध्य प्रदेश के तीन लाख से ज्यादा किसान इस योजना से जुड़े रहे हैं। परंतु वर्तमान वित्तीय वर्ष में मध्य प्रदेश के लगभग 47 लाख किसानों ने इस योजना के तहत पंजीकरण किया है। इस संख्या में से सबसे ज्यादा आवेदन करने वाले किसान उज्जैन में पाए गए हैं। इस वर्ष बीमा कराने वाली संख्या पिछले वर्ष से ज्यादा है। उज्जैन में बीमा कराने वाले किसानों की संख्या 429000 है तथा सिंगरौली के 855 किसानों ने आवेदन किया है। इस योजना के अंतर्गत बीमा की राशि का भुगतान 98% केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जाता है एवं बाकी का 2% प्रीमियम किसानों को स्वयं ही देना होता है।

  • मध्यप्रदेश में से मंदसौर सीहोर देवास राजगढ़ के किसानों ने भी इस योजना के तहत आवेदन किया है।
  • राज्य के 50% से अधिक किसानों को Fasal Bima Yojana के तहत आवेदन करवाया गया है।
  • वह सभी किसान जिनके पास क्रेडिट कार्ड उपलब्ध नहीं है वह कस्टमर सर्विस सेंटर या बीमा कंपनी में अपनी फसल का बीमा करवा सकते हैं।

लखनऊ के 35000 किसानों को मिला फसल बीमा योजना का लाभ

इस योजना के तहत लखनऊ के 35259 किसानों ने इस योजना के तहत बीमा करवाया हैं। इन सभी किसानों को बीमा करवाने के बाद लगभग 3.27 करोड़ रुपए की राशि के प्रीमियम का भुगतान किया गया है। जिसमें से 8411 किसानों ने क्लेम के लिए आवेदन किया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत इस क्लेम के लिए बीमा कंपनी द्वारा 5.78 करोड रुपए की राशि का भुगतान किया है। लखनऊ की बात की जाए तो, लगभग 172714 किसान ऐसे हैं जिनके पास क्रेडिट कार्ड उपलब्ध है। परंतु इन किसानों में से लगभग 1.16 किसान ऐसे पाए गए हैं जिन्हें अपना पंजीकरण करवाना बाकी है। 

  • वह सभी किसान जिनके पास क्रेडिट कार्ड उपलब्ध है उन्हें अब अपना रजिस्ट्रेशन इस योजना के तहत करवाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • किसानों को फसल के नुकसान होने पर दिए गए टोल फ्री नंबर पर संपर्क करना अनिवार्य है 18001030061।
  • इसके साथ ही साथ किसानों द्वारा नुकसान की जानकारी कृषि विभाग के अधिकारियों को भी पहुंचाई जाएगी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नियमों में हुए बदलाव

पात्र किसानों तक फसल बीमा योजना के लाभ पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा कुछ नए बदलाव किए गए हैं। इस योजना के तहत पहले ऐसा होता था कि गेहूं काटने के बाद पढ़ाई के दौरान यदि आग लग जाती थी या फिर बारिश हो जाती थी तो ऐसे अकेले किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिलता था यह लाभ सामूहिक होता था। और सामूहिक होने के कारण उन सभी किसानों को भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त होता था जिन्हें कोई नुकसान नहीं उठाना पड़ा है। परंतु सरकार द्वारा नए बदलावों के माध्यम से अगर किसी किसान को फसल पर प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान हुआ है तो उस स्थिति में किसानों को बीमा कंपनी द्वारा अधिक लाभ प्रदान किया जाएगा। 

  • किसानों को अलग-अलग फसलों पर पूरी तरह लाभ मुहैया कराया जाएगा।
  • इस नई व्यवस्था के लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को अपने सभी दस्तावेजों के साथ किसी बैंक में जाकर संपर्क करना होगा।
  • साथिया साथ धान एवं गेहूं प्रति हेक्टेयर की निर्धारित रकम का भुगतान देर सो फ़ीसदी ज़्यादा किसानों द्वारा किया जाएगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट

जैसे कि हम सभी जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को खराब हुई फसलों पर इंश्योरेंस कवर प्रदान करने हेतु Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana का शुभारंभ किया गया है। इस योजना का लाभ अब तक देश के विभिन्न किसानों को पहुंचाया गया है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के बाद देश के किसानों को काफी मदद प्राप्त हुई है। ‌ यदि आप ही इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा। आवेदन करने के बाद आप अपना नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में खोज सकते हैं।

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद हमारे देश के किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगे।
  • देश के जिन किसानों का नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में शामिल होगा उन्हें किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा

राजस्थान सरकार द्वारा जारी किए गए 61 करोड़ 40 लाख रुपए

राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के निष्फल बुवाई से प्रभावित किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत 61 करोड़ 45 लाख रुपए जारी किए गए हैं। और साथ ही साथ कृषि मंत्री लालचंद कटारिया द्वारा बीमा कंपनियों को क्लेम देने के निर्देश जारी किए गए हैं। राजस्थान राज्य के विभिन्न जिलों में कम बारिश के कारण अधिसूचित फसल की बुवाई प्रभावित होने पर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का प्रावधान किया जाएगा। राजस्थान के राज्य में विभिन्न दिलों में प्रभावित किसान कुछ इस प्रकार हैं।

  • गंगानगर जिले के 29%
  • करौली जिले के 12%
  • धौलपुर जिले के 19%
  • कोटा जिले के 75%।

21 अगस्त तक फसल बीमा योजना के तहत क्विज का आयोजन

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा देश के लोगों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के प्रति जागरूक करने हेतु क्विज का आयोजन किया गया है। यह आयोजन 21 अगस्त तक ऑनलाइन किया जाएगा। कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा 21 जून से शुरू किया गया यह अभियान 21 अगस्त तक खत्म किया जाएगा। इसको इसके तहत प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के विजेताओं को ईनामी राशि का पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। देश के सभी किसान योजना से जुड़ी वितरित जानकारी प्राप्त करने के बाद इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। प्रतियोगिता में भाग लेने की अंतिम तिथि 21 अगस्त निर्धारित कर दी गई है।

  • इसको क्विज को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है देश के प्रधानमंत्री फसल बीमा के लाभार्थियों को Fasal Bima Yojana के बारे में सिख प्रदान की जा सके।
  • अधिकारी द्वारा बताया गया है कि इस प्रतियोगिता में 5 मिनट में 15 प्रश्नों का उत्तर देना होता है।
  • क्विज में सफलता हासिल करने के बाद प्रतिभागी को भागीदारी का प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in

बीमा करते समय नॉमिनी को भी शामिल किया जाएगा

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान पर बीमा मुहैया कराया जाता है। हाल ही में ही केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत कुछ बड़े बदलाव किए गए हैं। पहले बीमित किसानों की मृत्यु होने पर रकम प्राप्त करने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता था। परंतु सरकार द्वारा अब इस योजना के अंतर्गत नॉमिनी को शामिल करने की इजाजत दे दी गई है। इस योजना के अंतर्गत अब किसान बीमा करवाते समय नॉमिनी को शामिल करने में सक्षम रहेंगे।

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत अब नॉमिनी को भी शामिल किया जाएगा ताकि किसान की मृत्यु हो जाने पर फसल की रकम नॉमिनी को मुहैया कराई जा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत नॉमिनी के तौर पर किसान किसी को भी शामिल कर सकते हैं।
  • इस बड़े फैसले के माध्यम से देश के किसानों को काफी राहत प्राप्त हुई है।

छत्तीसगढ़ के किसान 31 जुलाई तक कर सकेंगे खरिफ फसलों का बीमा

जैसे कि हम सभी जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुए नुकसान फसलों पर बीमा मुहैया कराया जाता है। वह सभी किसान जो वर्ष 2021 मे खरीफ फसल पर बीमा करवाना चाहते हैं उनके लिए 15 जुलाई 2021 अंतिम तिथि निर्धारित कर दी गई थी। परंतु हाल ही में ही छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जानकारी दी गई है कि इस अंतिम तिथि को बढ़ाकर 31 जुलाई कर दिया गया है। राज्य के वह सभी व्यक्ति जो अपनी खरीफ फसल पर बीमा के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह अब 31 जुलाई 2021 तक आवेदन कर सकते हैं।

  • साथ ही साथ छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बताया गया है कि फसल धान संचित धान असिचित मक्का सोयाबीन मूंगफली मूंगफली जैसी फसलों पर भी बिमा प्राप्त कर सकते हैं।
  • वह सभी किसान जो इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें कथित जुलाई 2021 से पहले पहले ही अपने नजदीकी बैंक वित्तीय संस्था लोक सेवा केंद्र में जाकर आवेदन करना होगा।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in

उत्तर प्रदेश के 25.60 लाखों किसानों को मिला फसल बीमा का लाभ

केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान के लिए बीमा उपलब्ध कराया जाता है। अब तक इस योजना का लाभ देश के सैकड़ों किसानों को प्रदान किया जा चुका है। यदि बात उत्तर प्रदेश की करी जाए तो यूपी सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास करती रहती है। हाल ही में ही उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही के निर्देश अनुसार पता चला है कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के लगभग 25.60 लाख किसानों को बीमा मुहैया कराया गया है। जिसके लिए सरकार ने 2207 करोड़ रुपए की धनराशि का भुगतान किया है।

  • राज्य के इच्छुक और जरूरतमंद किसानों को बड़ी मात्रा में इसका लाभ प्राप्त हुआ है।
  • साथ ही साथ कृषि मंत्री द्वारा बताया गया है कि किसानों को फसल की राशि समय से उपलब्ध कराई गई है।

31 जुलाई 2021 से पहले करें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन

भारत सरकार द्वारा विभिन्न प्रकार की कल्याणकारी योजनाओं का शुभारंभ किया जाता है। इसी तरह भारत सरकार द्वारा किसानों को फसलों के नुकसान पर बीमा प्रदान करने हेतु प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ 2016 में किया गया था। इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों के होने वाले नुकसान पर बीमा मुहैया कराया जाता है। इस योजना का लाभ अब तक देश के करोड़ों किसानों को प्रदान किया जा चुका है। परंतु हाल ही में ही इस योजना से जुड़ी एक बड़ी खबर आई है कि उत्तर प्रदेश के किसान इस योजना के अंतर्गत 31 जुलाई 2021 तक आवेदन करने पर 10 फसलों का बीमा करा सकते हैं।

  • एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड के द्वारा इस योजना के अंतर्गत खरीफ सीजन की 10 फसलों को शामिल किया गया है।
  • इनमें धान ज्वार बाजरा मक्का उड़द मूंग अरहर तेल सोयाबीन और मूंगफली आदि शामिल है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए उत्तर प्रदेश के किसान अगले 25 दिन के भीतर ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत अपनी फसल का बीमा करा सकते हैं।

24 जुलाई तक किसानों को देनी होगी लिखित सूचना

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि हमारे देश के किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान पर आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत बीमा कवर लेने पर किसानों के बैंक खातों से प्रीमियम राशि काट ली जाती है। परंतु वह सभी किसान जो क्रेडिट कार्ड धारक हैं और इस स्कीम से जुड़ना नहीं चाहते हैं तो उन सभी किसानों को 24 जुलाई तक बैंक में लिखित सूचना में बताना होगा कि वह इस बीमा का लाभ नहीं उठाना चाहते हैं।

  • यदि किसानों द्वारा लिखित रूप में यह जानकारी बैंकों को नहीं प्रदान की जाती है,
  • तो उनके बैंक अकाउंट से ऑटोमेटिक केसीसी लोन की रकम मैं से बीमा का प्रीमियम काट लिया जाएगा।
  • और ऐसी स्थिति में किसानों को नुकसान झेलना पड़ेगा।
  • सरकार द्वारा बैंक को आदेश दिए गए हैं कि फसल की प्रीमियम का पैसा बैंक अकाउंट से काटने की जानकारी किसानों को भी समय से प्रदान की जाए

11 जिलों में होगा मिर्च खेती पर बीमा

जैसे कि हम सभी जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी फसलों पर होने वाले नुकसान पर बीमा कवर प्रदान किया जाता है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत विभिन्न फसलों को शामिल किया गया है। परंतु हाल ही में ही सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत मिर्च फसल को भी शामिल कर लिया गया है। देश के 11 ब्लॉकों के क्षेत्रों को मिर्च की फसल पर बीमा मुहैया कराया जाएगा। इस बीमा के नियम किसानों को अधिक प्रीमियम राशि का भुगतान करना होगा। इस बात की जानकारी जिला कृषि अधिकारी द्वारा किसानों को प्रदान की गई है। परंतु सरकार द्वारा इसे लागू करने पर एक बड़े पैमाने पर खेती करने वाले मैच उत्पादक किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा। मिर्ची फसल को शामिल करने वाले 11 ब्लॉकों की सूची कुछ इस प्रकार हैं

  • मनियर
  • सीयर
  • बांसडीह
  • बैरिया
  • मुरली छपरा
  • बेरूआरबादी
  • दुबहड़
  • सोहांव
  • बेलहरि
  • रसड़ा
  • नगरा

प्रदेश सरकार द्वारा जमा की जाएगी फसल बीमा प्रीमियम की राशि

देश के छोटे व सीमांत किसानों को फसलों कल आप जलाने के लिए किसान कल्याण तथा कृषि विभाग मंत्री कमल पटेल जी के द्वारा एक कार्ययोजना तैयार की जा रही है। इसके तहत सभी राज्य सरकारों द्वारा अपने छोटे व सीमांत किसानों की फसलों पर प्रीमियम राशि भरी जाएगी। मंगलवार को मंत्री पटेल जी के द्वारा अधिकारियों को यह निर्देश जारी कर दिए गए हैं। इस चरण की शुरुआत देश के सीमांत किसानों की आय को बढ़ाने के लिए की गई है। किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा देश के किसानों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने के लिए यह निर्णय लिया गया है।

  • मंत्री द्वारा 11 कृषि उपज मंडियों की आय बढ़ाने एवं मंडी शुल्क की बकाया राशि शीघ्र प्राप्त करने के निर्देश जारी किए गए हैं।
  • और साथ-साथ मूंग की समर्थन मूल्य पर खरीदी की गति बढ़ाने के भी निर्देश जारी किए गए हैं।

पीएम किसान ट्रैक्टर योजना 

बीमा रथ का हुआ शुभारंभ

आदर्श नंगला गांव में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत |बीमा रथ| किसान रथ मोबाइल अप्प (Kisan Rath App) का शुभारंभ किया गया है। इस शुभ अवसर पर कृषि महेश खोकर जी ने बताया है कि प्रत्येक गांव में जाकर किसानों को ऑडियो और पंपलेट बांटे जाएंगे। इन सुविधा के माध्यम से किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जिससे वह अपने बीमा ऊपर फसल कराने के लिए जागरूक होंगे। इस शुभ अवसर पर आदर्श नंगला के अमित कुमार यशपाल सुरेश पाल धर्मेंद्र हरपाल संजय बलवान आदि किसान मौजूद थे

अधिक लाभार्थियों को लाभ पहुंचाने के लिए आरम्भ अभियान

जैसे कि हम सभी जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत देश के किसानों को उनकी फसलों फसलों पर होने वाले नुकसान पर बीमा उपलब्ध कराया जाता है। इस बीमा के माध्यम किसानों को अपनी आर्थिक तंगी में काफी सुधार मिलता है। सरकार द्वारा 1 जुलाई 2021 को  फसल बीमा योजना के दायरे में अधिक से अधिक किसानों को बढ़ाने के लिए अभियान शुरू किया गया है। अभियान के तहत अभियान खारे के सभी अधिसूचित क्षेत्रों के किसानों को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जाएगा। साथ-साथ सरकार द्वारा विशेष ध्यान 75 पिछड़े वर्ग जिलों पर दिया जा रहा है।

  • इस योजना को विस्तार करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश में कृषि क्षेत्र को आगे बढ़ाया जा सके।
  • ताकि हमारे देश के किसानों को किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना ना करना पड़े और वह आत्मनिर्भर बने।

यूपी सरकार चलाएगी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का अभियान

1 जुलाई 2021 से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को जोड़ने के लिए एक अभियान शुरू करने जा रही है। इस योजना के अंतर्गत राज्य के 75 विकास खंडों पर विशेष ध्यान केंद्रित किया जाएगा। केंद्र सरकार द्वारा अलग-अलग जिलों के 8 प्रखंडों की पहचान की गई है जिसमें किसानों की संख्या प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करने में कम रही है। परंतु अब अपर मुख्य सचिव देवेश चतुर्वेदी के द्वारा किसानों को इस योजना में शामिल करने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इस अभियान को लेकर अधिकारियों द्वारा संदेश भेजे गए हैैं।

  • जल्द ही इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के किसानों को शामिल किया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत ज्यादा से ज्यादा पंचायत और प्रखंडों को कवर किया जाएगा ताकि कोई भी किसान इस योजना से वंचित ना रहे।

प्रचार वाहन को किया गया लागू

जैसे कि हम सभी जानते हैं भारत सरकार द्वारा फसल बीमा योजना को देश के किसानों के लिए आरंभ किया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को फसलों पर प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले होने वाले नुकसान पर आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाती हैं। हाल ही में ही किसानों को इस योजना के प्रति जागरूक करने के लिए कृषि विभाग के उप निदेशक पीसी सैनी द्वारा प्रचार वाहन को मंजूरी दे दी गई है। प्रचार वाहन अब प्रत्येक पंचायत में जाकर किसानों को खारीफ फसलों पर बीमा कराने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। फसल पर बीमा करवाने की अंतिम तिथि सरकार द्वारा 15 जुलाई निर्धारित कर दी गई है।

  • अब देश के किसान आसानी से अपनी फसल पर बीमा करवाने में सक्षम रहेंगे।
  • देश का अब प्रत्येक किसान फसल बीमा योजना के प्रति प्रोत्साहित होगा।

31 जुलाई से पहले ही करें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में प्रवेश

किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान उसे बचाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के कार्यान्वयन की पूरी जिम्मेदारी जिला स्तर पर परियोजना अधिकारी व सर्वेयर को सौंपी गई है। इसके साथ-साथ बीमा कंपनियों द्वारा यह जिम्मेदारी जिला एवं ब्लाक स्तर पर कर्मचारियों को सौंपी गई है। सरकार द्वारा आदेश दिए गए हैं कि किसानों की सभी प्रकार की शिकायतों का निपटान जल्द से जल्द किया जाए। इस प्रक्रिया के लिए एक शिकायत निवारण समिति का गठन किया जाए ताकि शिकायतें खत्म करने में कोई देरी ना हो।

  • इस योजना के अंतर्गत हरियाणा में वर्ष 2021 में केवल धान मक्का बाजरा कपास एवं रबी सीजन में गेहूं जौ चना सरसों और सूरजमुखी की फसलों पर ही बीमा प्रदान किया जाएगा।
  • देश के किसान PMFBY का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें 31 जुलाई 2021 से पहले ही आवेदन करना होगा।
  • आवेदन करने के बाद देश के किसान अपना नाम आसानी से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में खोज सकते हैं

किसानों को निकासी की लिखित सूचना बैंक को देनी होगी

केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को फसलों के नुकसान पर राशि प्रदान करने हेतु इस योजना का शुभारंभ किया गया था। परंतु ऋण लेने वाले काफी ऐसे लाभार्थी किसान हैं जो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त नहीं करना चाहते हैं। यदि आप भी उन किसानों में से हैं जिनको इस योजना का लाभ नहीं चाहिए उन्हें इस बात की जानकारी 24 जुलाई 2021 से पहले ही बैंक को लिखित रूप में जमा करनी होगी। लिखित जानकारी प्राप्त करने के बाद बैंकों द्वारा उस लाभार्थी किसान को योजना से बाहर कर दिया जाएगा। 24 जुलाई 2021 से पहले यदि किसी के सामने से संबंधित जानकारी बैंकों को जमा नहीं की है तो इस योजना के अंतर्गत उस किसान का पंजीकरण हो जाएगा एवं उसके बैंक खाते से प्रीमियम की राशि काट ली जाएगी।

  • अपना नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में जांचने के लिए आप इसके आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं एवं इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं
  • इसके साथ-साथ यदि किसी किसान के द्वारा नियोजित फसल में कोई संशोधन किया गया है तो उसे इसकी जानकारी भी अंतिम तिथि के 2 दिन पहले जमा करनी होगी।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप किसान कल्याण विभाग द्वारा जारी किए गए टोल फ्री नंबर पर संपर्क कर प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसके अलावा आप बीमा कंपनी या बैंक के किसी शाखा में जाकर योजना से संबंधित जानकारी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

किसान सम्मान निधि सुधार

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना प्रीमियम राशि

इस योजना के तहत प्रीमियम राशि कुछ इस प्रकार है:-

फसलप्रीमियम राशि
(रुपए प्रति एकड़)
धान713.99
मक्का356.99
बाजरा335.99
कपास1732.50
गेहूं409.50
जौ267.75
चना204.75
सरसो275.63
सूरजमुखी267.75

फसल बीमा योजना के तहत कुल राशि

इस योजना के तहत कुल राशि कुछ इस प्रकार है:-

फसलबीमित राशि
(रुपए प्रति एकड़)
धान35699.78
मक्का17849.89
बाजरा16799.33
कपास34650.02
गेहूं27300.12
जौ17849.89
चना13650.06
सरसो18375.17
सूरजमुखी17849.89

52 लाख किसानों को मिली प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में दावे की राशि

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत वर्ष 2018-19 मैं लगभग 52,41,268 किसानों को फसल की क्लेम राशि का भुगतान किया गया था। और लगभग प्रतिवर्ष 5.5 किसानों द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन किया जाता है। देखा जाए तो अब तक सरकार द्वारा लगभग 9 करोड़ रुपये के दावों का भुगतान किया जा चुका है। एवं यह भुगतान किसानों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से किया जाता है। यदि आप ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत फसल के नुकसान पर बीमा राशि प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना होगा।

  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन प्राप्त होने के बाद किसानों को रबी और खरीफ सीजन की जानकारी विज्ञापन के माध्यम से दी जाती है।
  •  देश के जिन किसानों का नाम ज्यादा से ज्यादा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में शामिल होगा वह इस योजना का लाभ उठा सकें।

अब तक किए गए 9 करोड़ रुपये के दावों का भुगतान

जैसे कि हम सब जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाली खराब फसलों पर बीमा राशि उपलब्ध कराई जाती है। इस योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा 13 जनवरी 2016 को की गई थी। प्रतिवर्ष Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana के अंतर्गत लगभग 5.5 करोड़ किसानों के आवेदन आते हैं। जिसे मिलाकर लगभग 9 करोड़ रुपए के दावों का भुगतान किया जा चुका है। ‌ यह दावे आधार सीडिंग के माध्यम से निपटाए जाते हैं। लॉकडाउन के चलते लगभग 7 करोड़ किसानों को 8741.30 करोड़ रुपये उपलब्ध कराए गए थे

  • इस योजना के अंतर्गत प्रीमियम राशि का भुगतान राज्य एवं भारत सरकार द्वारा किया जाता है।
  • एवं पूर्वोत्तर राज्यों में 90% प्रीमियम राशि का भुगतान भारत सरकार द्वारा किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत औसदन बीमित राशि 40700 रुपये कर दी गई है जो पहले 15,100 रुपये थी।

राष्ट्रीय किसान डेटाबेस योजना

रिपोर्ट करने के 72 घंटे के भीतर है दवे की राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पहुंचाई जाएगी।

Budget Of Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

केंद्र सरकार द्वारा आरंभ की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को उनकी फसलों के नुकसान पर बीमा राशि मुहैया कराई जाती है। यह बीमा राशि किसानों को बुवाई के पहले से लेकर कटाई के बाद तक के समय को कवर करती है। जिसके अंतर्गत फसल के नुकसान होने पर किसानों को आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाती है। सरकार द्वारा 2021-22 वर्ष के लिए 16000 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित कर दिया गया है। जो लगभग पिछले वर्ष के बजट से 305 करोड़ रुपए ज्यादा है। इस योजना के अंतर्गत बजट को बढ़ाने का मुख्य लक्ष्य है कि देश के कृषि क्षेत्र मैं विकास हो सके

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना विश्व स्तर पर भागीदारी मामले में सबसे बड़ी योजना है एवं प्रीमियम के मामले में तीसरी सबसे बड़ी योजना है।
  • पिछले 3 वर्ष के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन को देखते हुए सरकार ने इस योजना को रीलॉन्च करने का निर्णय लिया है जिसमें काफी सारे संशोधन भी किए गए हैं।
  • इस योजना के अंतर्गत फसल के नुकसान की रिपोर्ट करना काफी आसान है
  • किसान अब एक ऐप का उपयोग करके ही अपनी फसल के नुकसान के बारे में रिपोर्ट कर सकते हैं।
  • रिपोर्ट करने के 72 घंटे के भीतर है दवे की राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पहुंचाई जाएगी।

रबी फसल बीमा प्रक्रिया को शुरू किया गया

सरकार द्वारा घोषणा की गई है कि रबी फसल की बीमा प्रक्रिया को आरंभ कर दिया गया है। इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत लाभार्थियों के बैंक खातों से प्रीमियम राशि काट ली जाएगी क्योंकि सरकार द्वारा बैंकों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। 31 दिसंबर 2020 से पहले ही प्रीमियम की राशि किसानों के खाते में से काटी जाएगी और 15 जनवरी 2021 को पोर्टल पर लाभार्थियों के नाम दर्ज कर दिए जाएंगे। फसल बीमा योजना की प्रक्रिया के बारे में पूरी जानकारी एग्रीकल्चर इंश्योरेंस कंपनी ऑफ़ इंडिया लिमिटेड द्वारा मध्य प्रदेश बैंकों में प्रदान की गई।

  • सभी पात्र लाभार्थियों का प्रीमियम बैंकों द्वारा काट लिया जाएगा
  • इसके लिए किसानों से सहमति पत्र लेने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी
  • परंतु देश के जो किसान PMFBY का लाभ प्राप्त नहीं करना चाहते उन्हें अंतिम तिथि से पहले ही असहमति पत्र जमा करना होगा
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी किसानों को राज्य स्तरीय सहकारी बैंक क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक वित्तीय संस्थान से संपर्क करना होगा।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की महत्वपूर्ण जानकारियां ‌

इस योजना के तहत महत्वपूर्ण जानकारियां कुछ इस प्रकार है:-

  • इस योजना की शुरुआत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले फसलों के नुकसान पर बीमा कवर प्रदान करने के लिए शुरू किया गया है।
  • अब तक प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ लाखों किसानों को प्राप्त हो चुका है।
  • पहले वर्ष में लगभग 13000 करोड़ रुपये का प्रीमियम किसानों द्वारा जमा किया गया है।
  • योजना को लगभग 27 राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों में संचालित किया गया है
  • इस योजना के अंतर्गत क्लेम रेशयो लगभग 88.3% है।
  • योजना की समीक्षा समय-समय पर की जाती है एवं हितग्राही से संवाद किया जाता है
  • वर्ष 2021 में PMFBY के अंतर्गत कुछ संशोधन किए गए हैं
  • देश के वह राज्य जहां लंबे समय तक स्टेट सब्सिडी की पेमेंट विलंब है वह इस योजना में लाभ नहीं ले सकते हैं।
  • 0.5% बीमा कंपनियों द्वारा प्राप्त हुई प्रीमियम राशि इंफॉर्मेशन एजुकेशन एंड कम्युनिकेशन एक्टिविटी के लिए खर्च की जाती है।
  • इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सेंट्रल एडवाइजरी कमेटी का गठन किया गया है
  • जो भी देश का इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहता है उसके पास अपना आधार नंबर होना अनिवार्य है।

पीएम किसान रिजेक्ट लिस्ट

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत वाइल्ड लाइफ डैमेज

जैसे कि हम सब जानते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई फसल बीमा योजना के अंतर्गत किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण खराब होने वाली फसलों पर बीमा कवर उपलब्ध कराया जाता है। परंतु इस योजना के अंतर्गत कुछ संशोधन किए गए हैं जिसमें अब वाइल्ड लाइफ डैमेज को भी कवर किया जाएगा। अब प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत यदि किसी किसान की फसल को जंगली जानवरों के कारण नुकसान पहुंचा है तो उस फसल पर किसानों को बीमा कवर मुहैया कराया जाएगा। यह सुविधा किसानों को ऐडऑन सर्विसेस के तौर पर उपलब्ध कराई जा रही है। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए देश के किसानों को प्रीमियम का भुगतान स्वयं ही करना होगा।

  • राज्य सरकारों द्वारा पहले से ही किसानों को क्रॉप डैमेज कंपनसेशन प्रदान किया जाता है
  • अब राज्य सरकारों द्वारा जंगली जानवरों के कारण होने वाले नुकसान पर भी प्रदान किया जाएगा

फसल बीमा योजना के अंतर्गत प्रीमियम राशि

इस योजना के तहत प्रीमियम राशि कुछ इस प्रकार है:-

फसलप्रीमियम राशि
खरीफ फसल के लिए2%
रबी फसल के लिए1.5%
बागवानी की फसल के लिए5%

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का गतिविधि कैलेंडर

इस योजना के तहत गतिविधि कैलेंडर कुछ इस प्रकार है:-

गतिविधि कैलेंडरखरीफरबी
अनिवार्य आधार पर लोनी किसानों के लिए स्वीकृत ऋण।अप्रैल से जुलाई तकअक्टूबर से दिसम्बर तक
किसानों के प्रस्तावों की प्राप्ति के लिए कट ऑफ़ तारीख (ऋणदाता और गैर-ऋणदाता)।31 जुलाई31 दिसम्बर
उपज डेेटा प्राप्त करने के लिये कट आफ तारीखअतिंम फसल के एक महीने के भीतरअतिंम फसल के एक महीने के भीतर

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना

PMFBY Revised

प्रकारवर्ष 2016 के लियेवर्ष 2019 के लिये
किसान द्वारा देय प्रीमियम धनराशिरू 900रू 600
शतप्रतिशत नुकसान की दशा मे किसान को प्राप्त धन राशिरू 15000रू 30000

Benefits Of Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana

इस योजना के लाभ कुछ इस प्रकार हैं:-

  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना को केंद्र सरकार द्वारा 13 जनवरी 2016 में आरंभ किया गया था।
  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि प्राकृतिक आपदाओं के के कारण किसानों की फसलों को होने वाले नुकसान पर बीमा कवर उपलब्ध कराया जा सके।
  • इस योजना का लाभ किसानों को प्राकृतिक आपदा के कारण नष्ट हुई फसलों पर ही उपलब्ध कराया जाता है।
  • किसानों को खरीफ फसल के 2% और रबी फसल के 1.5% के प्रीमियम का भुगतान करना होता है।
  • Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि हमारे देश के किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण नुकसान का सामना ना करना पड़े।
  • इस योजना के माध्यम देश के किसानों को किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • इस योजना के माध्यम से देश के सभी किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बनेंगे।
  • देश के किसान अब प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान से बच सकेंगे
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत केवल प्राकृतिक आपदाओं पर ही बीमा राशि उपलब्ध कराई जाएगी
  •  यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आवेदन करने के बाद आप अपने नाम की जांच आसानी से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट में कर सकते हैं।

फसल बीमा योजना के अंतर्गत पात्रता

इस योजना के तहत पात्रता कुछ इस प्रकार हैं:-

  • देश के सभी किसान इस योजना के पात्र हैं।
  • अपनी जमीन पर एवं उधार ली हुई जमीन पर आप खेती का बीमा आसानी से करा सकते हैं।
  • इस योजना के केवल वही किसान पात्र हैं जिन्होंने पहले किसी बीमा योजना का लाभ नहीं लिया हो।

Important Documents Under Fasal Bima Yojana

इस योजना के तहत महवपूर्ण दस्तावेज़ कुछ इस प्रकार हैं:-

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • किसान का एड्रेस प्रूफ
  • किसान का आईडी कार्ड
  • खेत का खाता नंबर खसरा नंबर
  • आवेदक का फोटो
  • फसल की बुवाई शुरू किए हुए दिन की तारीख

स्वामित्व योजना/ संपत्ति कार्ड डाउनलोड

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

देश के जो इच्छुक किसान इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया (प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट)
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको Register के विकल्प पर क्लिक करना है
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक पेज खुल कर आएगा
  • यहां आपको अधिकारिक जानकारी दर्ज करनी है जैसे Stakeholders, Category and User Category
  • जानकारी दर्ज करने के बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आएगा
  • इस फोन में पूछी गई सभी जानकारी जैसे Name, Aadhar ID Card, Mobile Number, Password, Email, Employee ID तथा Landline Line Number दर्ज करना है
  • संपूर्ण जानकारी दर्ज करने के बाद आपको Create के बटन पर क्लिक करना है
  • इस प्रकार आप प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएंगे

साइन इन करने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत साइन अप प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:-

  • साइन अप करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Sign In के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा
  • इस पेज पर आपको आपको अपना मोबाइल नंबर, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगइन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अपने एग्रीकल्चर ऑफिसर या फिर इंश्योरेंस कंपनी के पास जाना होगा।
  • अब आपको एग्रीकल्चर ऑफिसर या इंश्योरेंस कंपनी को नुकसान होने के 72 घंटे के अंदर अंदर नुकसान की जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • इसके बाद आपको नुकसान की तिथि एवं समय की जानकारी प्रदान करनी होगी।
  • आपको फसल के नुकसान की तिथि तथा टाइम के साथ साथ फसल की फोटो भी जमा करनी होगी।
  • यह पूरी प्रक्रिया आप क्रॉप इंश्योरेंस ऐप के माध्यम से भी कर सकते हैं।
  • अन्य जानकारी के लिए आप फार्मर कॉल सेंटर पर संपर्क कर सकते हैं 18001801551 है।

फसल बीमा योजना आवेदन की स्थिति कैसे देखे?

वह सभी व्यक्ति जो आवेदन की स्थिति देखना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana Online Application Status

  • आवेदन की स्थिति जांचने हेतु आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर Application Status के विकल्प पर क्लिक करना होगा |
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल कर आएगा |
  • इस पेज पर आपको अपना Receipt Number और Captcha Code डालना होगा इसके बाद Search Status के बटन पर क्लिक करना होगा |
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने आपके आवेदन की स्थिति आ जाएगी |

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह सभी व्यक्ति जो ऐप डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • योजना ऐप डाउनलोड करने हेतु आपको अपने मोबाइल फोन में गूगल प्ले स्टोर खोलना होगा।
  • अब आपको सर्च बॉक्स में Fasal Bima App दर्ज करना होगा।
  • दर्ज करने के बाद आपके सामने एक सूची खुल कर आएगी जिसमें से आप को ऊपर वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको Install के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार प्रधानमंत्री फसल बीमा आपके मोबाइल फोन में डाउनलोड हो जाएगा।
  • अप किसान ऐप में अपना नाम तथा फोन नंबर डालकर पंजीकरण कर सकते हैं

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट

वह व्यक्ति जो बीमा योजना लिस्ट देखना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से

वह व्यक्ति जो बीमा योजना लिस्ट देखना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • फसल बीमा योजना लाभार्थी सूची देखने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको लाभार्थी सूची के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपने ब्लॉक का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप ब्लॉक का चयन करेंगे आपके सामने लाभार्थी सूची खुलकर आ जाएगी।
  • आप इस सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

बैंक के माध्यम से

वह व्यक्ति जो बीमा योजना लिस्ट देखना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • फसल बीमा योजना लाभार्थी सूची देखने हेतु अपने नजदीकी बैंक जाना होगा।
  • अब आपको संबंधित अधिकारी को अपना एप्लीकेशन नंबर देना होगा।
  • एप्लीकेशन नंबर देने के बाद आपको बैंक अधिकारी द्वारा मांगे गए दस्तावेजों को देना होगा।
  • बैंक अधिकारी आपको लाभार्थी सूची से संबंधित जानकारी प्रदान कर देगा।
  • इस प्रकार आप लाभार्थी सूची में अपना नाम देख पाएंगे।

इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेट कैसे करे ?

इस योजना के तहत इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेट करने हेतु निम्नलिखित चरणों का पालन करें:-

  • इंश्योरेंस प्रीमियम कैलकुलेट करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको Insurance Calculator के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गयी कुछ जानकारी जैसे फसल का चयन , साल ,स्कीम , स्टेट , डिस्ट्रिक्ट , क्रॉप आदि का चयन करना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको Calculate के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप इंश्योरेंस कैलकुलेट कर पाएंगे। 

स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने हेतु निम्नलिखित चरणों का पालन करें:-

  • स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने हेतू आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • होम पेज पर आपको Report के सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपको State Wise Farmer Details के विकल्प पर क्लिक करना होगा
स्टेट वाइज फार्मर डिटेल जानने की प्रक्रिया (प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट)
  • क्लिक करते ही आपके सामने फार्मर डिटेल्स लिस्ट खुलकर आ जाएगी
  • आप इसमें से जिस भी साल की फार्मर डिटेल्स चेक करना चाहते हैं आप उसे डाउनलोड करके चेक कर सकते हैं।

शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

वह सभी व्यक्ति जो शिकायत दर्ज करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • शिकायत दर्ज करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको Technical Grievance के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आएगा
  • इस फॉर्म में पूछे गए सभी जानकारी जैसे नाम, मोबाइल नंबर , ईमेल आईडी , और कमैंट्स को दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप शिकायत दर्ज कर पाएंगे।

फीडबैक की प्रक्रिया

इस योजना के तहत फीडबैक की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार हैं:-

  • फीडबैक दर्ज करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • होम पेज पर आपको Feedback का विकल्प दिखाई देगा
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट फीडबैक की प्रक्रिया
  • आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा। आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे नाम ,मोबाइल नंबर ,ईमेल आईडी कमैंट्स आदि को भरना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको कैप्चा कोड डालकर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।

पीएफबीवाई के अंतर्गत क्लेम करने की महत्वपूर्ण बातें

देश के जो इच्छुक लाभार्थी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत पंजीकृत हैं एवं इस योजना के बीमा का लाभ उठाना चाहते हैं तो उन्हें बीमा कंपनियों तक प्राकृतिक आपदाओं की जानकारी स्पष्ट करनी होगी। किसानों को यह जानकारी अधिकारियों तक समय से प्रदान करनी होगी। यदि किसी कारणवश किसानों द्वारा यह जानकारी प्रदान करने में देरी हो जाती है तो आपके क्लेम का भुगतान नहीं किया जाएगा। प्राकृतिक आपदाओं की जानकारी छोटे पैमाने पर प्रदान करनी होगी जैसे प्राकृतिक आपदाओं में ओला पुष्टि संकलन अतिवृष्टि बादल फटने प्राकृतिक आग और बेमौसम बारिश या अधिक बारिश शामिल होंगे।

  • सूत्रों के अनुसार जानकारी प्राप्त हुई है कि लगभग 9,30,000 किसानों का बीमा क्लेम रद्द कर दिया गया है क्योंकि उनके द्वारा बीमा कंपनियों को प्राकृतिक आपदाओं की जानकारी नहीं प्रदान की गई थी।
  • यदि किसी किसान की प्राकृतिक आपदा बड़े पैमाने पर हुई है तो उस किसान को प्राकृतिक आपदा की जानकारी देने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • आपको केवल इस बात का ध्यान रखना होगा कि बीमा कंपनियों को आप सही समय पर सूचित कर दें।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत क्लेम करने की प्रक्रिया

वह सभी व्यक्ति जो क्लेम करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • सबसे पहले किसानों  को फसल के पहुंचे नुकसान की जानकारी इंश्योरेंस कंपनी, बैंक या फिर राज्य सरकार अधिकारी को दर्ज करनी होगी।
  • यह जानकारी किसान टोल फ्री नंबर पर संपर्क करके नुकसान होने के 72 घंटे के भीतर ही दर्ज कर सकते हैं।
  • अगर किसी कारण बस अपने नुकसान की जानकारी कहीं और दे दी है तो आप को यह सुनिश्चित करना होगा कि आप जानकारी इंश्योरेंस कंपनी तक पहुंचाएं
  • जानकारी इंश्योरेंस कंपनी पहुंचने पर 72 घंटे के भीतर नुकसान निर्धारण करता नियुक्त करेगी।
  • इसके पश्चात ऑफ अगले 10 दिन के भीतर ही फसल को पहुंचे नुकसान का आकलन नुकसान निर्धारितकरता करेगा।
  • यह सारी प्रक्रिया सफलतापूर्वक हो जाने पर 15 दिन के भीतर ही बीमा की राशि आपके खाते में पहुंचा दी जाएगी।

टेंडर डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो टेंडर डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • टेंडर्स डाउनलोड करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Documents के सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपको Tenders के लिंक पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट टेंडर डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने टेंडर की सूची खुलकर आ जाएगी।
  • आप अपनी आवश्यकता अनुसार टेंडर की सूची के सामने दी गई डाउनलोड की लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।
  • इस प्रकार टेंडर आपकी डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगा।

गाइडलाइन डाउनलोड करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो गाइडलाइन डाउनलोड करना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • गाइडलाइंस डाउनलोड करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको Documents के सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपको Guidelines के लिंक पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट गाइडलाइन डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने गाइडलाइंस की पूरी सूची खुलकर आ जाएगी।
  • आप अपनी आवश्यकता अनुसार गाइडलाइन के विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं।
  • इस प्रकार गाइडलाइंस आपकी डिवाइस में डाउनलोड हो जाएंगी।

PMFBY पोर्टल डाटा डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

लाभार्थी जो डैशबोर्ड देखना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • PMFBY पोर्टल डाटा डैशबोर्ड देखने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको डैशबोर्ड के सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपको PMFBY Portal Data Dahboard के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PMFBY पोर्टल डाटा डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया
  • इस प्रकार आपके सामने डैशबोर्ड खोल कर आ जाएगा।

बैंक ब्रांच डायरेक्टरी देखने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो बैंक ब्रांच डायरेक्टरी देखना चाहते हैं उन्हें निम्नलिखित चरणों का पालन करना है:-

  • बैंक ब्रांच डायरेक्टरी देखने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होमपेज खुलकर कर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको Bank Branch Directory के लिंक पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट बैंक ब्रांच डायरेक्टरी देखने की प्रक्रिया
  • इस लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने बैंक ब्रांच डायरेक्टरी खुलकर आ जाएगी।
  • यहां आपको सर्च बॉक्स में बैंक नेम दर्ज करना होगा।
  • इस प्रकार संबंधित बैंक की जानकारी आपके डिवाइस में खुलकर आ जाएगी

सीएससी लॉगिन करने की प्रक्रिया

वह सभी व्यक्ति जो सीएससी लॉगइन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • सीएससी लॉग इन करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाती थी आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको सीएससी के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको CSC Login के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट सीएससी लॉगिन करने की प्रक्रिया
  • इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आएगा
  • यहां आपको अपना Username तथा Password दर्ज करना होगा।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको आपको साइन इन के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप सीएससी लॉगइन कर पाएंगे।

सीएससी लोकेट करने की प्रक्रिया

वह व्यक्ति जो सीएससी लोकेट करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है:-

  • सीएससी लोकेट करने हेतु आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट पर जाते ही आपके सामने होमपेज खुलकर आएगा
  • इस होम पेज पर आपको सीएससी के सेक्शन पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपको CSC Locator के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
सीएससी लोकेट करने की प्रक्रिया (प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट)
  • विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने नया पेज खुल कर आएगा।
  • यदि आप आईफोन का उपयोग करते हैं तो आपको ऐप स्टोर के बटन पर क्लिक करना होगा
सीएससी लोकेट करने की प्रक्रिया
  • और यदि आप एंड्रॉयड का उपयोग करते हैं तो आपको गूगल प्ले के लिंक पर क्लिक करना होगा।
सीएससी लोकेट करने की प्रक्रिया
  • आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा
  • इस पेज पर आपको Install के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार सीएससी लोकेटर आपके डिवाइस में इंस्टॉल हो जाएगा।

4 thoughts on “प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लिस्ट 2021: ऑनलाइन आवेदन | List at pmfby.gov.in”

  1. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

    Reply
    • पोस्ट में दी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़े,
      प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया नामक हैडिंग का पालन करें,
      ऑनलाइन आवेदन करके और योजना का लाभ उठाएं |

      Reply
    • We are going to prepare a separate article for you to apply online under the PM Fasal Bima Yojana, but we have covered all the procedures in this article too so that you can get all the information related to the online application under the Fasal Bima Yojana. And you can also see the list online.

      Reply

Leave a Comment